अभी-अभी मिली ताजा जानकारी के अनुसार बंगाल की खाड़ी से उठा यास तूफान, बंगाल और उड़ीसा में तबाही मचाने के बाद झारखंड और बिहार में भी पहुंच चुका है। बिहार में कैमूर जिले के रास्ते प्रवेश करते हुए यास तूफ़ान ने बिहार के कई ज़िलों में अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। अब तक मिली ताजा जानकारी के अनुसार भागलपुर सुपौल कटिहार पूर्णिया पटना समेत कई जिलों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश शुरू हो चुकी है ।

 

 

तूफान का विशेष प्रभाव 2 दिन यानी 27 और 28 मई को खास तौर पर देखने को मिल सकता है, जिसके दौरान हवाओं की रफ्तार 40 किलोमीटर प्रति घंटा तेज बारिश के साथ साथ वज्रपात की भी आशंका जताई गई है। मौसम विभाग उसको देखते हुए येलो अलर्ट जारी कर दिया हैं। मौसम विभाग ने बीते दिन बिहार के सभी जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इस अलर्ट में पूरी तरह सच्चाई देखी जा सकती है क्योंकि इस वक्त राजधानी पटना मुजफ्फरपुर मधुबनी शेखपुरा और दरभंगा समेत कई जिलों में झमाझम बारिश लगातार हो रही है हवाए भी तेज चल रही है।

 

बिहार में आपदा प्रबंधन विभाग के कंट्रोल रूम से सभी जिलों के डीएम को लगातार संपर्क किया जा रहा है ताकि आपदा प्रबंधन विभाग के पास हर जानकारी का पल-पल की खबर प्राप्त हो सके। आपदा प्रबंधन विभाग ने तूफान के अलर्ट को देखते हुए राज्य में 22 एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को तैनात कर दिया है।

 

 

साथ-साथ मौसम विभाग ने कहा कि तूफान के कारण अगले 4 दिनों तक मौसम ऐसा ही रहेगा इसलिए प्रशासन लोगों से यह अपील करे की लोग बेवजह घरों से बाहर ना निकले। 30 मई तक बिहार झारखंड उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में गरज के साथ भारी बारिश और बिजली गिरने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक 27 और 28 मई के बीच पूर्वांचल के कुशीनगर गोरखपुर देवरिया बलिया मउ और गाजीपुर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

 

 

इसके अलावा सिद्धार्थ नगर बस्ती अयोध्या सुल्तानपुर महाराजगंज अंबेडकर नगर जयपुर आजमगढ़ वाराणसी भदोही चंदौली मिर्जापुर और सोनभद्र में भी भारी बारिश का पूर्वानुमान है। 29 मई के लिए श्रावस्ती बलरामपुर गोंडा सिद्धार्थ नगर संत कबीर नगर महाराजगंज कुशीनगर गोरखपुर देवरिया बलिया अंबेडकरनगर आजमगढ़ और मऊ में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.