भागलपुर,( कुलसूम फात्मा )  भागलपुर वासियों को स्मार्ट सड़क कंस्ट्रक्शन कार्य के द्वारा मिलेगी स्मार्ट सड़कें और इस सड़क कंस्ट्रक्शन ड्राइंग का कार्य एनआईटी पटना के जरिए किया जा रहा है। इन स्मार्ट सड़क में कुल मिलाकर 18 अलग-अलग सड़कों का चयन किया गया है। और यह स्मार्ट सड़के शहर की 11.41 किलोमीटर की होंगी।

 

पटना के डीएम ने कैंप लगवाया और कार्य को गति से पूरा किया जाए। निर्देश दिये इन 18 सड़कों के कंस्ट्रक्शन के साथ-साथ फुटपाथ तथा वेंडिंग जोन और लिंडर कैंपिंग स्ट्रीट फर्नीचर ड्रेन यूटिलिटी डक्ट्स नाइट लाइटिंग का काम भी कराया जाए निर्देश दिया इसके साथ ही स्मार्ट सिटी के अधिकारियों ने बताया की कुछ मार्ग का मार्ग प्रमंडल के कार्यालय इंजीनियर के जरिए एनओसी नहीं दिए जाने के वजह से काम कराने में देरी हो रही है तो डीएम ने नगर आयुक्त को पथ प्रमंडल के कार्यालय इंजीनियर से कहां के समन्वय करें और मंजूरी प्राप्त करें।

 

और पुराने टाउन हॉल को तोड़कर के एयर कंडीशन भवन का निर्माण कराया जाएगा ,पुराने टाउन हॉल को तोड़ने की परमिशन तथा एनओसी नहीं मिलने की वजह से काम नहीं प्रारंभ किया जा सका डीएम ने निर्देश दिए की उप विकास आयुक्त पता लगाए के टाउन हॉल किसका है तथा टाउन हॉल की पूरी जानकारी प्राप्त करें। किस कोष से बना था। प्रावधान के जरिए क्या था और टाउन हॉल में 1000 लोगों के बैठने का इंतजाम होगा। 27.44 करोड़ से 50000 स्क्वायर फीट में भवन तैयार होगा। कंस्ट्रक्शन कार्यकाल की जिम्मेदारी ओम शंकर प्राइवेट लिमिटेड को वर्तमान समय में दी गई है।

 

 

कंस्ट्रक्शन कार्य के दौरान नागरिकों की सुविधा और सुरक्षा को भी ध्यान में रखा जाएगा और टाउन हॉल के अंदर प्रोजेक्शन तथा साउंड के सिस्टम आधुनिक ही लगाए जाएंगे। इसके साथ ही गाड़ियों की पार्किंग की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी और सेमिनार हॉल ऑडिटोरियम के साथ-साथ सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाएगा। इसके लिए स्वीकृत टीवी कैमरे भी इंस्टॉल किए जाएंगे और फायर फाइटिंग सिस्टम भी साथ में लगाए जाएंगे।

 

 

क्योंकि स्वास्थ्य विभाग से एनओसी नहीं प्राप्त हो पाई। इसलिए कार्य में देरी हुई इसके बाद डीएम ने सदर एसडीओ को निर्देश भी दिया की जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के प्रचार तथा अधीक्षक से समन्वय स्थापित करके एनओसी दिलाने में जरूरी कार्यवाही करें और निर्णय लिया की बनने वाले भवन का उपयोग अस्पताल में आने वाले मरीजों के लिए किया जाए। जिससे के जनता को ज्यादा से ज्यादा फायदा हो सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *