बिहार,( कुलसूम फात्मा )  मुंघेर जिले के छोटे से गांव विषय में रहने वाले मनीष कुमार ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC 2020 में 49वा स्थान हासिल करा ना के केवल गांव का नाम भी रोशन किया साथ ही पूरे देश मे अपनी सफलता का परचम लहराया..

 

 

सफलता का श्रेय माता-पिता अपनी बहनों और दोस्तो को दिया..

साक्षात्कार के दौरान जब मनीष से बात की तो बताया इस सफलता के पीछे उनके माता पिता, बहनों और दोस्तो का काफी बड़ा योगदान रहा है, वे हमेशा ही उसका उत्साह बढ़ाने हेतु मदद करते रहे है, साथ ही बताया वो बी.टेक के विद्यार्थी रहे है और प्रशासनिक सेवा में जाने का सपना शुरु से ही रहा है

 

 

माता पिता की सहमति से छोड़ी नौकरी..

आपको बता दे मनीष का बी.टेक पूरा होने के बाद वे नौकरी करने लगे थे, चूंकि सपना बड़ा था तो माता पिता से परामर्श नौकरी छोड़ कर दिल्ली की और रुख किया और 1 साल की तैयारी के बाद पूरे देश मे 49वा स्थान हासिल किया, जिससे वे काफी खुश है ,आगे बताते हुए मनीष ने कहा वे आईएएस बनके किसी बड़े प्रोजेक्ट का हिस्सा बनके देश का नाम रोशन करना चाहते है

 

 

कभी पढ़ने के लिए नही कहा .

मनीष की माँ वसुंधरा भारती बताती है उन्होंने कभी मनीष पर पढ़ाई का प्रेशर नही बनाया वो खुद ही इतना पड़ता था के डांटकर सोने के लिए बोलते , इसी बात को ध्यान में रखकर वे इस सफलता का श्रेय सिर्फ और सिर्फ अपने बेटे मनीष और उसकी दृढ़ इच्छाशक्ति और मेहनत को देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.