बिहार के रेल यात्रियों के लिए पूर्वोत्तर रेलवे ने दो स्पेशल ट्रेनों के परिचालन के लिए हरी झंडी दे दी है यह ट्रेने बिहार के अलग-अलग रूटों से होकर गुजरेंगी, आइए जानते है इन गाड़ियों के बारें में विस्तार से, पहली ट्रेन सियालदह गोरखपुर पूजा स्पेशल ट्रेन जिसकी गाड़ी संख्या 03131 है, दूसरी ट्रेन गोरखपुर सियालदह पूजा स्पेशल ट्रेन जिसका गाड़ी संख्या 03132 है यह गाड़ी गोरखपुर से प्रत्येक सोमवार को 3, 10, 17, 24, और 31 october को संचालित की जाएगी, तथा 03131 सियालदह गोरखपुर एक्सप्रेस प्रत्येक रविवार 02, 09, 16, 23, 30 October को संचालित की जाएगी। इस ट्रेनो का रूट सियालदह वर्धमान आसनसोल बरौनी छपरा गोरखपुर है।

 

लेकिन यह ट्रेन (03131/03132) इन स्टेशनो के अलावा भटनी सिवान छपरा हाजीपुर बरौनी शाहपुर पटोरी क्यूल झाझा जसीडीह मधुपुर चितरंजन दुर्गापुर बेंडेल नौहटी में भी रुकेंगी। इन दोनों ट्रेनों में कुल 20 कोच को शामिल किया गया है जिसमें 3 टियर एसी के 6 बोगी कथा स्लीपर क्लास का 12 कोच एवं 2 एसएलआरडी कोच शामिल है।

दूसरी ट्रेन 03043 हावड़ा रक्सौल पूजा स्पेशल ट्रेन जो हावड़ा से खुलकर वर्धमान आसनसोल बरौनी मुजफ्फरपुर होते हुए रक्सौल को जाएगी। यह गाड़ी हावड़ा से प्रत्येक शनिवार को 1, 8, 15, 22, 29 अक्टूबर को पांच फेरो में संचालित की जाएगी। तथा गाड़ी संख्या 03044 रक्सौल हावड़ा पूजा स्पेशल ट्रेन रक्सौल से प्रत्येक रविवार को 2, 9, 16, 23 और 30 अक्टूबर को पांच फेरो में संचालित की जाएगी।

 

ये ट्रेने (03043/03044) भी अपने निर्धारित रूट के अलावा बेंडे दुर्गापुर चितरंजन मधुपुर जसीडीह झाझा समस्तीपुर और सीतामढ़ी स्टेशनों पर भी रुकेगी। इस दोनों ट्रेन में टू टियर एसी के 2 कोच, थ्री टियर एसी के 1 कोच, स्लीपर क्लास के 6 कोच, द्वितीय श्रेणी के 6 कोच तथा एसएलआरडी के 2 कोच मिलाकर कुल 17 कोच शामिल होगा। ये सभी ट्रेने एक्सप्रेस् या मेल के रूप में संचालित की जाएगी।

पूर्व रेलवे द्वारा एक बेहद ही महत्वपूर्ण जानकारी जारी की गई है जो यह है कि इन दोनो गाड़ियों में सफर करने के लिए एक्सप्रेस के किराए के अलावा विशेष शुल्क का भुगतान करना होगा, रियायती बुकिंग की अनुमति नहीं दी गई है, तथा तत्काल कोटा में इन ट्रेनों में उपलब्ध नहीं है इसके अलावा इन ट्रेनों में अनारक्षित कोच के रूप में द्वितीय श्रेणी और एसएलआरडी कोच उपलब्ध है। बुकिंग आज 4 September से शुरू हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *