बिहार,( कुलसूम फात्मा ) बिहार के बड़े शहरों में यातायात व्यवस्था सुधारने का कार्य बहुत जल्द प्रारंभ हो जाएगा। इस पर बातचीत चल रही है। और ये प्रथम चरण में सभी नगर निगम वाले सिटी में ट्रैफिक सिग्नल लगाए जाएंगे। इससे संबंधित कार्य शुरू हो गए हैं सर्वप्रथम राज्य के आईजी ट्रैफिक बनाए जाएंगे इसकी पहल की गई है और बहुत जल्द नगर विकास तथा आवास विभाग इसके लिए प्रस्ताव भी भेज देगा।

 

 

 

ऐसी की जाएगी व्यवस्था

 

बिहार राज्य में नगर निगम वाले शहरों की संख्या तकरीबन 18 है परंतु पहले यह संख्या 12 थी और छह शहरों को नगर निगम की वैल्यू से नवाजा जा चुका है। यह ऐसे शहर है जहां पर आबादी तकरीबन दो लाख से अधिक है। आबादी बढ़ने के कारण इन शहरों में ट्राफिक के कारण काफी दबाव बढ़ चुका है और जगह-जगह पर यातायात व्यवस्था अस्त-व्यस्त है। पटना के अलावा बाकी नगर निगम वाले शहरों में ट्रैफिक सिग्नल की व्यवस्था बिल्कुल भी नहीं है। अब इन सभी शहरों में ट्रैफिक सिग्नल की व्यवस्था की जाएगी और शहर के खास चौराहों पर भी इसकी व्यवस्था होगी यह कितने सिग्नल लगेंगे कहा लगेंगे इससे संबंधित प्रस्ताव जनपद के एसएसपी तथा एसपी भेजेंगे बता दें के एक शहर में तकरीबन 10 से 12 ट्रैफिक सिग्नल लगाए जा सकते हैं ।

 

 

इस व्यवस्था पर होगा 3 लाख खर्च

अधिकारियों से जब बातचीत की तो उन्होंने बताया यह ऑटोमेटिक ट्रैफिक सिग्नल लगाने पर तकरीबन 3,00000 रू खर्च हों जाएंगे इसकी स्वीकृति भी बहुत जल्द प्रदान कर दी जाएगी। ट्रैफिक सिग्नल लगाने के लिए आईजी ट्रैफिक के नगर विकास तथा आवास विभाग के अधिकारियों से भी बात हुई है बहुत जल्दी इससे संबंधित प्रस्ताव भेज दिया जाएगा और पटना में यातायात को कंट्रोल करने के लिए सिग्नल जो खराब हो गए हैं, उनको सही कराया जाएगा। इसके साथ ही कैमरे को भी दुरुस्त कराया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.