कुछ दिन पहले आपने सुना होगा गोपालगंज से हवाई उड़ान शुरू होगी तो बता दे गोपालगंज के हवाई अड्डे को शुरू करने का कार्य प्रारंभ हो गया है । और पटना के तीन एयरपोर्ट के बाद यह चौथा हवाई अड्डा होगा जहां आपरेशन प्रारंभ होने का अनुमान लगाया जा रहा है। उपरोक्त के साथ-साथ बिहार के कई शहरों के मध्य हेलीकॉप्टर सर्विस को भी प्रारंभ किये जाने की कवायद चल रही है।

 

 

जी हां वर्तमान में सरकार राज्य के विशेष टूरिज्म स्थलों को हेलीकॉप्टर सेवा से जोड़ने का प्लान बनाया जा रहा है।
डॉक्टर आलोक कुमार सुमन नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से हथवा में स्थित है हवाई अड्डे के रनवे के लिए रिपेयरिंग तथा ऑपरेशनआल एक्टिविटीज में गति लाने के मांग के संबंध में मिले। और वर्तमान समय में रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम के द्वारा से सबैया हवाई अड्डे को सरकार ने प्रारंभ करने की मंजूरी दे दी है।

 

 

हालाकि आरसीएस उड़ान के द्वारा हवाई अड्डे को प्रारंभ करने की इजाजत पहले ही दी जा चुकी है। परंतु रनवे की रिपेयरिंग तथा परिचालन से संबंधित गतिविधियों को भी प्रारंभ करने की मांग की गई है़। हवाई अड्डा चालू होने के पश्चात गोपालगंज, देवरिया, बेतिया तथा मोतीहारी में सुविधा उपलब्ध कराने की मांग के साथ बाकी जिलों के लोगों को भी सुविधा दी जाए नगर तथा विमानन मंत्री के समक्ष मांग रखी गई इसपर नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बहुत जल्द इन कार्य को प्रारंभ कराने के लिए कहा है।

 

 

केंद्रीय पर्यटन मंत्री किशन रेड्डी के साथ राज्य के पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद ने विभागीय मीटिंग की, जिसमें बिहार के पर्यटन स्थलों को हेलीकॉप्टर से जोड़ने की बात कही और दर्शन योजना तथा प्रसाद योजना, रामायण सर्किट, जैन सर्किट, और होटल प्रबंधन के साथ-साथ बिहार में हेलीकॉप्टर के जरिए से पर्यटक स्थल को जोड़ने का भी मुद्दा उठा, साथ ही बेतिया राज को पर्यटक स्थल के तरीके से डेवलप करने की बात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *