बिहार राज्य में 6 स्टेट हाईवे के कंस्ट्रक्शन कार्य बहुत जल्द प्रारंभ हो जाएगा जिसमें अंतरराष्ट्रीय मानक के आधार पर रीइंफोर्समेंट कार्य और चौड़ीकरण कार्य कराया जाएगा जिससे आने जाने में तकरीबन 2 से ढाई घंटे की बचत और सहुलियत मिलेगी और यह निर्माण कार्य केंद्र सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ इकोनॉमिक अफेयर्स के द्वारा एशियन डेवलपमेंट बैंक से लोन लेने के बाद शुरू होगा पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने बताया के इसकी मंजूरी भी दे दी जा चुकी है।

 

 

शुक्रवार के दिन मंत्री नितिन नवीन ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को धन्यवाद कहा और सड़कों को अंतर्राष्ट्रीय मानक के आधार पर चौड़ीकरण और रिइंफोर्समेंट परियोजनाओं में कुल व्यय तकरीबन 2680 करोड़ बताया। जिसमें एशियन डेवलपमेंट बैंक तकरीबन 329 मिलियन डॉलर का ऋण इंडियन गवर्नमेंट को देगी यह परियोजना का कंस्ट्रक्शन कार्य बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड के जरिए होगा।  वही एसएच 101 के कंस्ट्रक्शन कार्य से अंबा माता मंदिर तथा देव के सूर्य मंदिर जाना भी आसान होगा। इसके साथ नवादा बिहार शरीफ बांका, भागलपुर, औरंगाबाद अन्य स्थानों पर पहुंचने के लिए कम दूरी तय करनी पड़ेगी।

 

 

आइए जानते हैं वह कौन से 6 स्टेट हाईवे  परियोजना में  किए गए हैं सम्मिलित।

  • पथ निर्माण मंत्री के अनुसार ऐसएच 95 के निर्माण कार्य से मानसी से सिमरी बख्तियारपुर आवागमन में ढाई घंटे बचेंगें यही नहीं बल्कि इस मार्ग में प्रस्तावित हुए पुल से मानसी से सहरसा आने जाने में 200 किमी की दूरी का कम सफर तय करना पड़ेगा
  •   98 के बारे में कहा पूर्वी बिहार से उत्तरी पश्चिमी बंगाल आवागमन में काफी सहूलियत मिलेगी।
  •    एसएच 99 के बारे में कहा के सुदूरवर्ती जिले किशनगंज से एनएच 30, एनएच 327 तथा इंडो नेपाल बॉर्डर रोड के जरिए बिहार के कई स्थानों पर आने जाने में सहूलियत मिलेगी।
  • वही एसएच 101 के कंस्ट्रक्शन कार्य से अंबा माता मंदिर तथा देव के सूर्य मंदिर जाना भी आसान होगा। इसके साथ नवादा बिहार शरीफ बांका, भागलपुर, औरंगाबाद अन्य स्थानों पर पहुंचने के लिए कम दूरी तय करनी पड़ेगी।
  • एनएच 103 के संबंध में बताया नवादा तथा झारखंड के खनिज तत्व वाले एरिया में वाहनों के आने जाने में सहूलियत होगी। यही नहीं बल्कि ककोलत जलप्रपात पर्यटन स्थल जाने में भी काफी सहूलियत प्राप्त होगी।
    इसके अलावा एसएच देवघर गया जाने के लिए ऑप्शनल रास्ते का भी काम कराया जाएगा।
  • एचएच 105 बेतिया से नरकटियागंज के बनने से बेतिया से नरकटियागंज आवागमन के लिए ऑप्शनल रास्तों का कार्य कराया जाएगा। साथ ही चनपटिया से नरकटियागंज आने जाने वालों का कम दूरी के साथ जल्द सफर पूरा हो जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *