गोरखपुर,( कुलसूम फात्मा )  बीएससी की छात्रा ने पदभार संभालते ही दुनिया वालों को दिखाया के नियम एक के लिए नहीं बल्कि सभी के लिए होते हैं। फिर वह थानेदारनी का बाप हो या फिर आम जनता ,आकांक्षा बीएससी की छात्रा ने हेलमेट ना लगाने पर अपने पिता का चालान काटने के साथ-साथ अतिक्रमण से मुक्त से लेकर के फरियादियों की शिकायत पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

 

असल में आकांक्षा बीएससी की छात्रा ने बालिका दिवस पर इटावा के थाने उसराहार में प्रभारी पद को संभाला और थाने का निरीक्षण करा तथा थाने में फरियाद लेकर आए हुए भोले सक्सेना के प्रार्थना पत्र पर कार्रवाई के निर्देश दिए। और पहले ही दिन पदभार संभालते रोड पर जब पिता को कस्बे से बिना हेलमेट के जाते हुए देखा तो आकांक्षा गुप्ता ने पिता अरविंद गुप्ता को रुकवाया तथा उनका चालान काटने के निर्देश दिए।

 

जब पिता अरविंद का चालान कट गया तो बेटी ने भविष्य में परिवार जन की भलाई के लिए हेलमेट लगाकर चले निर्देश दिए तो पिता ने बेटी से शपथ ली कि दोबारा ऐसा नहीं होगा।  आकांक्षा गुप्ता ने रविवार के दिन चालान काट कर यह साबित कर दिया कि नियम सबके लिए बराबर हैं। वह फिर थानेदार की बेटी हो या फिर थानेदारनी का बाप नियम तो नियम है। वह फिर आम जनता के लिए हो या फिर किसी पद संभालने वाली बेटी के बाप के लिए हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.