बिहार राज्य में लगातार केंद्र सरकार और राज्य सरकार मिलकर सड़क निर्माण के कार्य को बहुत ही तेजी से आगे बढ़ा रहा है। जिसका परिणाम साफ साफ देखने को मिल रहा है बिहार में आने वाले दिनों के लिए चार एक्सप्रेस वे को हरी झंडी दी गई है। हम बात कर रहे हैं रक्सौल हल्दिया ग्रीनफ़ील्ड एक्सप्रेस वे की, यह शानदार एक्सप्रेस वे नेपाल देश के रक्सौल से पश्चिम बंगाल के हल्दिया तक बनाई जाएगी।

 

इस दौरान यह एक्सप्रेस वे बिहार के भी कई जिलों से होकर गुजरेगा। जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस एक्सप्रेस-वे की लागत तकरीबन ₹20 हज़ार करोड़ बताई गई है। जिसमें 680 किलोमीटर लंबाई का सड़क का निर्माण किया जाएगा। यह सभी सड़क छह लेन के बनाए जाएंगे। बिहार के पूर्वी चंपारण मुजफ्फरपुर वैशाली हाजीपुर एवं बांका से होकर गुजरने वाले इस शानदार एक्सप्रेसवे डीपीआर बनाने का कार्य बहुत ही तेजी से किया जा रहा है।

 

पूरे होने के बाद इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा। इसके अलावा गोरखपुर सिलीगुड़ी ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे इस एक्सप्रेस वे का आधे से अधिक हिंसा बिहार में है आपको बता दें कि 519 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेस-वे का 416 किलोमीटर सड़क बिहार में पड़ेगा तथा उत्तर प्रदेश में 84 किलोमीटर और पश्चिम बंगाल में 18 किलोमीटर हिस्सा शामिल है।

 

बिहार के पडरौना बेतिया सीतामढ़ी मधुबनी सुपौल अररिया और किशनगंज होते हुए यह एक्सप्रेस वे पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी से जुड़ेगा। जानकारी के लिए आपको बता दें कि इसी साल 2022 में अकेले बिहार में चार एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। इस एक्सप्रेस वे के लिए जिन जिन जिलों में इन एक्सप्रेस वे का रूट तय होगा उसके अनुसार जमीन का अधिग्रहण होगा तथा जमीन मालिकों को उचित मूल्य पर मुआवजा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *