मौसम विज्ञान विभाग (Meteorological Department) ने बिहार में मानसून (Monsoon In Bihar) इस बार समय से एक-दो दिन पहले आने की उम्मीद ने जताई है. देश के अन्य हिस्सों में पिछले एक-दो दिनों में समय पूर्व मानसून के पहुंचने के बाद इस बात की उम्मीद और बढ़ गई है।

 

 

मौसम विभाग ने बिहार के कुछ जिलों के लिए अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार, पटना, गया, मुजफ्फरपुर, नवादा सहित बिहार के सभी हिस्सों के लिए ग्रीन के साथ येलो अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार, नौ जून से राज्य के अधिकतर हिस्सों में गरज तड़क के साथ बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी और आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका है.

 

 

बता दें कि प्रदेश में सामान्‍य तौर पर 14 जून को मानसून का आगमन होता है। इस बार देश के कई हिस्‍सों में समय से पहले मानसून के आगमन को देखते हुए बिहार में भी इसके एक-दो दिन पहले पहुंचने के आसार हैं। इस बार मानसून के झूमकर बरसने की उम्‍मीद है।

 

 

कई जिलों में अलसुबह से ही तेज बारिश शुरू हो गई है। भीषण गर्मी के बाद सुबह से कई जगहों पर मूसलाधार बारिश हुई। पटना में अलसुबह करीब 3:30 बजे से ही बरखा की टिप-टिप से लोगों की नींद खुली। इसके बाद जमकर बारिश हुई। यह बारिश खेती-किसानी के लिए भी यह अत्‍यंत लाभदायक होगा। प्रदेश के कई इलाकों में तेज आंधी के साथ बारिश हो सकती है। पटना स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने राज्य के सभी जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी कर दिया है। मानसून के समय से पहले पहुंचने की उम्‍मीद बन रही है।

 

 

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि बुधवार से राज्य का मौसम कभी भी स्थानीय कारणों से बदल सकता है। वर्तमान में वातावरण में काफी नमी है। वहीं बुधवार से प्रदेश की हवा में बदलाव होने की उम्मीद है। बुधवार से पछुआ की जगह पूर्वा हवा का प्रवाह शुरू हो जाएगा। इसके साथ ही काफी मात्रा में नमी आने लगेगी। इससे राज्य में किसी भी स्थान पर मात्र तीन से चार घंटे में मौसम में बदलाव संभव है। आंधी एवं बारिश शुरू हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.