बिहार के अलग-अलग जिलों के शहरी इलाकों में सड़क जाम एक बड़ी समस्या है उभर कर सामने आई है, इस समस्या के समाधान के लिए सरकार द्वारा रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण किया जा रहा है। जिसके लिए बिहार के कई जिलों का चयन किया गया है इन जिलों में इसी साल रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा ।जिससे लोगों का आवागमन सुगम हो सके एवं शहर को सड़क जाम की समस्या से छुटकारा मिल जाए।

 

बिहार के वैशाली सारण सुपौल कटिहार और अररिया जिले में इसी साल सात रेलवे ओवरब्रिज बनाए जाएंगे इसके अलावा और चार रेलवे ओवरब्रिज अगले साल बनाए जाएँगे। जानकारी के लिए आपको बता दें कि इन सभी 11 रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण कार्य पर लगभग 684.61 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। अब तक मिली जानकारी के अनुसार वैशाली जिले में दो रेलवे ओवर ब्रिज और छपरा जिले में है 195.36 करोड़ रुपए से रेलवे ओवरब्रिज बनाने का कार्य किया जाएगा।

सुपौल जिले में दो रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण किया जाएगा जिसकी लागत करीब 138 करोड रुपए है। सुपौल जिले के इन दोनों रेलवे ओवरब्रिज में पहला रेलवे ओवर ब्रिज खगड़िया जिला के मानसी से सुपौल जिला के हरदी चौधारा के बीच बदला घाट के पास बनाया जा रहा है वहीं दूसरा आरोबी सुपौल शहर में किया जा रहा है इन दोनों के निर्माण कार्य हो जाने से सुपौल शहर को सड़क जाम के बड़े समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा मिल जाएगा।

 

 

कटिहार जिले में दो आरोबी का निर्माण किया जा रहा है जिसमें पहला आरओबी मनिया तथा दूसरा गौशाला में बनाया जा रहा है, इसके निर्माण कार्य पर करीब 116 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे तथा दिसंबर 2022 तक इसका निर्माण कार्य पूरा कर लिए जाने की संभावना जताई गई है। अररिया जिले में 87.86 करोड़ रुपए से तथा पश्चिमी चंपारण के बगहा और मंगलपुर में एक रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण किया जा रहा है जिसकी लागत 68.49 करोड़ रुपए बताई गयी है। जुलाई 2023 तक सहरसा जिले में भी 79 करोड़ रुपए से एक आरओबी का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *