बिहारवासियों के लिए बड़ी खुशखबरी आ रही है। बिहार के गंगा नदी पर नए फ़ोरलेन पूल के निर्माण होने का रास्ता साफ़ हो गया है। केंद्र सरकार ने इसके लिए अपनी मंजूरी दे दी। मिली जानकारी के अनुसार सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी एवं बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन के मुलाक़ात में इस योजना पर सहमति बन गई है।

 

 

यह नया फोरलेन हूं पटना में बीघा से सारण और वैशाली जिले की सीमा पर सोनपुर के बीचो बीच रेलवे द्वारा निर्मित पुल के समानांतर एक और पूल बनाया जाएगा, जो चार लेन सड़क से लैस होगा। पटना में गंगा नदी पर फिलहाल दो पूल है पहला गांधी सेतु और दूसरा जेपी सेतु , तीसरा गांधी सेतु के समानांतर एक और पूल बनाया जा रहा है, जिसका निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। जेपी सेतु के समांतर गंगा नदी पर यह चौथा पुल के निर्माण कार्य के लिए केंद्र ने मंजूरी दी है।

 

 

इस नए पूल के निर्माण का सबसे बड़ा फ़ायदा गोपालगंज, सिवान, छपरा, सारण, सोनपुर, मोतिहारी, बेतिया, मुज़फ़रपुर, समस्तिपुर, दरभंगा, बेगूसराय, खगरिया, मधेपुरा, सीतामढ़ी के लोगों को मिलेगा। जेपी सेतु के समानांतर बनने वाले इस नए पुल से पटना एम्स के लिए सीधी कनेक्टिविटी बहाल हो जाएगी। जिससे बिहार इन जिले से पटना aiims पहुंचने के लिए किसी भी प्रकार का सड़क जाम का सामना नहीं करना पड़ेगा। दूसरी ओर बैठक में और भी कई योजनाओं को हरी झंडी दी गई है, जिसमें पटना से साहिबगंज केसरिया के रास्ते अरेराज जाने वाली सड़क को नए एनएच के रूप में विकसित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *