भारत में रेलवे परिचालन को पहले से अधिक सुदृढ़, आरामदायक और  सुगम बनाने के लिए रेलवे पूरी तरह से तत्पर है। जिसका ताजा उदाहरण बिहार और उत्तर प्रदेश को जोड़ रहे रेलवे लाइन से देखा जा सकता है।  भारतीय रेलवे ने 6 घंटे में वह कारनामा कर दिखाया है जिसे जानकर आपको भी रेल कर्मचारियों पर गर्व होगा। इस कोरोनाकाल में भी रेलवे के कर्मचारी  अपने ड्यूटी में लगातार जुटे हुए हैं।

 

पूर्वोत्तर मध्य रेलवे के ऑफिशल टि्वटर हैंडल से मिली जानकारी के अनुसार पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं गया के रेलखंड पर खुरमाबाद रोड एवं शिव सागर रोड  के बीच स्थित लगभग 120 साल पुराने लघु रेल पुल को तोड़कर एवं उसी स्थान पर नया रेल पुल का निर्माण किया गया।  यह पूरा कार्य महज 6 घंटे में पूरा किया गया।

 

इस पुराने लघु रेल पुल के जैसे ही बिहार में न जाने कितने पुल हैं जिन्हें तोड़कर फिर से बनाने की आवश्यकता है।  भारतीय रेलवे के कर्मचारी एवं रेल प्रशासन रेल यात्रा को सुगम बनाने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.