गोरखपुर, ( कुलसूम फात्मा )  पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने ट्रेन यात्रियों को सुविधा देने के लिए खिचड़ी तथा माघ मेले पर स्पेशल ट्रेन को चलाने का निर्णय लिया है। राजधानी तथा वाराणसी मंडल के प्रपोजल पर फॉर्मेट को जारी कर दिया गया है। ट्रेनों को चलाने की घोषणा 2 या 3 दिन में कर दी जाएगी।

 

 

असल में गोरक्षनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने तथा प्रयागराज संगम में डुबकी लगाने वाले लोगों की संख्या अधिक होती है और इन श्रद्धालुओं को यात्रा करने में दिक्कत ना हो इसलिए यह स्पेशल ट्रेनें विभाग ने चलाने का निर्णय लिया डिपार्टमेंट में पिछले कई दिनों से इस बात की चर्चा हो रही थी क्योंकि मेले में काफी भीड़भाड़ हो जाती है और पैसेंजर ट्रेनों के संचालन से संबंधित रेलवे बोर्ड के दिशानिर्देश नहीं मिलने के कारण अधिकारी भी महामारी में फैसला लेने से पिछे हट रहे हैं। इन श्रद्धालुओं की भीड़ क्योंकि बहुत होती है इसलिए इस बात की जिम्मेदारी कोई नहीं लेने के लिए तैयार हो रहा है। जिला प्रशासन की ओर से कोई उत्तर अभी भी नहीं मिल रहा है।

 

जानकारी मिली है की मकर संक्रांति के मौके पर कुछ स्पेशल ट्रेनों का संचालन होगा। इसके लिए स्टेशनों पर जनरल टिकट के काउंटर भी खोल दिए जाएंगे। स्टेशनों पर महामारी से संबंधित प्रोटोकॉल तथा सुरक्षा व्यवस्था को बनाए रखा जाएगा। रेलवे बोर्ड के निर्देश पर स्टेशनों के जनरल काउंटर पूर्व की तरह खोले जाएंगे। हालांकि वर्तमान समय में पूर्वांचल के लाखों श्रद्धालु रेलवे के फैसले का इंतजार कर रहे हैं।

 

बता दे की पैसेंजर ट्रेन को चलाने की अनुमति अभी नहीं मिल रही है जिससे यात्री काफी परेशान है और खिचड़ी मेले के लिए प्रस्तावित रूट गोरखपुर से नौतनवां, गोरखपुर, बढ़नी, गोंडा-बढनी तथा गोरखपुर गोंडा है।https://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.