जन्ता को जाम से मिलेगी निजात, आदित्यनाथ ने 3 सालों के अंतर्गत बदली गोरखपुर की तस्वीर।

 

 

 

 

गोरखपुर,( कुलसूम फात्मा )   उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले तकरीबन 3 सालों में गोरखपुर का नक्शा बदल कर रख दिया है। वर्तमान समय में चारों ओर से फोरलेन सड़कों का जाल बिछाने का कार्य चल रहा है। अंडर पास तथा पुल और ओवर ब्रिज का कंस्ट्रक्शन का तेजी के साथ चलाया जा रहा है। पूर्वांचल लिंक एक्सप्रेस वे के साथ-साथ औद्योगिक कॉरिडोर से डेवलपमेंट की रफ्तार को भी बढ़ाया जा रहा है। इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम से यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने का कार्य भी प्रारंभ हो चुका है।

 

 

 

आपको बता दें की नौसर से कालेसर के मध्य की सड़क की बनावट जो होगी वह मॉडल तरीके की होगी। कालेसर एंट्री पॉइंट को खासकर बेहतरीन लुक दिया जा रहा है। नौसर से कालेसर के मध्य राप्ती नदी के बांध को भी सजाया जा रहा है। खूबसूरती के साथ और सड़क के मध्य लाइटिंग का भी कार्य पूरा किया जा चुका है।

 

 

 

  • वहीं दूसरी ओर 2021 के अंदर ही गोरखपुर से बड़हलगंज फोरलेन का कंस्ट्रक्शन कार्य पूर्ण हो जाएगा। फोरलेन कंस्ट्रक्शन में देरी को ध्यान में रखते हुए योगी आदित्यनाथ ने कार्य की मॉनिटरिंग पीएमओ के द्वारा कराना प्रारंभ कर दी है।

 

  • मोहद्दीपुर से जंगल कौड़िया फोरलेन का कंस्ट्रक्शन बहुत जल्द पूर्ण हो जाएगा बता दें की इस पद के कंस्ट्रक्शन कार्य में काफी रुकावट आ रही थी। उन्हें गिरा दिया गया है। इसमें भेरूलाल मंदिर तथा गोरखपुर मंदिर की दीवार को गिरा दिया गया था।
  • यदि हम कालेसर से जंगल कौड़िया फोरलेन की बात करें तो यह बनकर तैयार हो गई है। इसका लोकार्पण मार्च की 31 तारीख से कर दिया गया था। मोहद्दीनपुर से जंगल कौड़िया फोरलेन का कंस्ट्रक्शन कार भी तेजी के साथ चलाया जा रहा है।

 

 

दिया जाएगा ओवरब्रिज का तोहफा।

 

  • राप्ती नदी पर बनाया गया बढ़िया ठाठर पुल पीपीगंज मेहदावल रास्ते पर है। दो जनपद की सीमा को जोड़ता है। इसको मुख्यमंत्री ने भी देखा और इस पुल से दो लाख की आबादी गुजरती है। इसपे तकरीबन 4974.79 लाख रुपए लगाए जा चुके हैं।

 

  • और दूसरा पुल आमी नदी पर गाढ़ा गांव के समीप पुल का निर्माण कराया जा रहा है। जिसमें 106. 88 मीटर लंबे पुल की लागत तकरीबन 1593.16 लाखों रुपए खर्च होगी।

 

  • आमी नदी के पास ढढौना गांव के समीप पुल बन रहा है जिसकी लंबाई 106.88 मीटर है और इसमें लागत तकरीबन 123, 2.48 आएगी इसकी नींव 2017 में रखी गई थी। और इससे डेढ़ लाख की आबादी को फायदा पहुंचेगा।

उपर्युक्त पुल के अलावा कोल्हुआ घाट पर पुल चिलुआताल पर भी बनाया जा रहा है जिसकी लंबाई 80.20 मीटर है और इस पुल निर्माण में तकरीबन 2120 लाख रुपए लग जाएंगे। इस पुल को चालू होने में 1.25 लाख की आबादी को फायदा पहुंचेगा।

 

 

गोरखपुर शहर में गोरखपुर देवरिया फोरलेन पर दो आरओबी का कंस्ट्रक्शन कार्य कराया जा रहा है, जिसमें एक पुल सरदार नगर के समीप बनाया जा रहा है, जिसकी लंबाई 664.98 मीटर है और इस कंस्ट्रक्शन कार्य में तकरीबन 1964.68 लाख रुपए की लागत आई है। दूसरा ओवरब्रिज गौरी बाजार के समीप बनाया जा रहा है, जिसकी लंबाई 668.43 मीटर है और इस ओवरब्रिज में 2143.19 लाख की लागत आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.