बिहार,( कुलसूम फात्मा )  बिहार की सभी पंचायतों में अब सरकार सहूलियत दे रही है अब अलग-अलग पंचायतों के लोगों को इधर-उधर दौड़ने की जरूरत बस पकड़ने के लिए नहीं होगी बल्कि वह अपने ही पंचायत में बस उपलब्ध पा सकेंगे और यात्रा कर सकेंगे और यह कार्य परिवहन विभाग के द्वारा किया जाएगा और इस कार्य की अवधि 2 साल रखी गई है।

 

राज्य में प्रत्येक पंचायत में बस स्टॉप परिवहन विभाग के द्वारा बनाया जाएगा सरकार के द्वारा परिवहन योजना का संचालन किया जा रहा है। इसके जरिए पंचायत से प्रखंड तक गाड़ियां चलाई जा रही हैं। परंतु पंचायत से गाड़ियां चलने का कोई स्थान अभी निश्चित नहीं हुआ है। विभाग ने यह तय किया है की प्रत्येक पंचायत में बस स्टॉप का निर्माण हो जिससे के यात्रियों को यात्रा करने में सहूलियत मिले। राज्य भर में सड़कों का जाल खोेलने के साथ-साथ प्रत्येक गांव के लोगों को परिवहन सुविधा से जोड़ने के लिए डिपार्टमेंट ने यह निर्णय लिया

 

विभाग ने इसके अलावा अन्य रूटों का भी निर्धारण किया है। बहुत जल्द 3000 नयेे मार्गो पर बसों का आवागमन प्रारंभ हो जाएगा। क्योंकि इसके लिए परमिट जारी की जा चुकी है। और यह बस स्टॉप 10 फीट लंबे तथा 25 फीट चौड़े होंगे। एक बस बनाने में खर्च 90,000 आएगा। यह बस स्टॉप में 20 लोग बैठ सकेंगे यह व्यवस्था की जाएगी और व्यवस्था ऐसी की जाएगी के स्टेशन पर 50 लोग आसानी से खड़े हो सके।

 

प्रत्येक पंचायत में बस स्टॉप बनाने के लिए 10 करोड़ जारी कर दिए गए हैं। पहले चरण में राज्य की 500 पंचायतों में बस स्टॉप का कंस्ट्रक्शन कार्य पूरा होगा। इस बनाई योजना को स्वीकृति दे दी गई है जिसमें 418 पर काम अंतिम चरण में है। बाकी 182 को पूर्ण करने के लिए जरूरत के हिसाब से निर्देश दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.