गोरखपुर,( कुलसूम फात्मा ) हरिद्वार- मुजफ्फरनगर फोरलेन हाईवे के कंस्ट्रक्शन कार्य ने धर्मनगरी को मेट्रो सिटी जैसा बना दिया है इस फोरलेन के द्वारा देहरादून हरिद्वार निवासियों को बरसों पुरानी उम्मीद पूरी होती नज़र आयी इसके बनने से अब देहरादून हरिद्वार तथा दिल्ली पहुंचने में तकरीबन 2 घंटे की बचत हो रही है।

 

 

 

यानी की 2 घंटे पहले ही लोग अपने स्थान पर पहुंच जा रहे हैं। मोतीचूर तथा नेपाली फॉर्म फ्लाईओवर के कंस्ट्रक्शन कार्य ने हरिद्वार ऋषिकेश के मार्ग में लगने वाले वक्त को अब कम कर दिया है जिससे कि हरकी पैड़ी पर बने दो पुलों ने होने के वजह से बॉटलनेक के वजह से यहां लगने वाले जाम से भी निजात दिला दी है।

 

चंडी चौक फ्लाईओवर चालू होने से हो रहा है लाभ

 

बता दें चंडी चौक फ्लाईओवर के प्रारंभ हो जाने से हरिद्वार कुंभ के दौरान आने वाले भक्तों को काफी सहायता मिल रही है। इसके साथ ही देहरादून तथा दिल्ली वाया हरिद्वार का रास्ता भी अब और अच्छा हो गया है।  बिजनौर तथा मुरादाबाद के साथ कोटद्वार लैंसडाउन जाने वाले यात्रियों को भी काफी सहूलियत अब मिल रही है।

 

 

केवल 11 माह में तैयार हुआ चंडी चौक फ्लाईओवर।

आपको जानकारी के लिए बता दें यह चांडी चौक फ्लाईओवर एनएचएआई ने केवल 11 माह में ही पूर्ण कर दिया। और इसमें तकरीबन खर्च 13 करोड़ का आया इस फ्लाईओवर की लंबाई 900 मीटर है।

 

8 अस्थाई पुलों का हुआ निर्माण

कुंभ के श्रद्धालुओं की संख्या को देखते हुए तकरीबन 63.98 करोड़ों का खर्च 8 स्थाई पुलों के निर्माण कार्य में हुआ है। मायापुर स्कैप चैनल तथा आरसीसी डबल लेन सेतु मायापुर में दक्षदीप तथा बैरागी कैंप बोस्ट्रिंग स्पीड गार्डन सेतु जगजीतपुर में डबल लेन सेतु बैरागी कैंप और डबल लेन सेतु के बीच मार्ग, रानीपुर रोड पर पुल का कंस्ट्रक्शन और सूखी नदी पर सेतु तथा भगवानपुर रास्ते पर ऑप्शनल पुल का कंस्ट्रक्शन कार्य को सम्मिलित किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.