गोरखपुर,( कुलसूम फात्मा )  जी हाँ, जंहा एक तरफ पूरा देश कोरोना की लड़ाई लड़ रहा है वही दूसरी और लोकडाउन से गरीब, मध्यमवर्गीय परिवार, व्यापारी और दिहाड़ी मजदूर अपना घर चलाने में असमर्थ महसूस कर रहा है, इसी के चलते मजदूर और अन्य व्यापारी वर्ग पलायन का रास्ता अपनाते हुए अपने अपने घरों की और रुख कर रहे है जिस से रेलवे स्टेशन और बस अड्डो पर यात्रियों की भीड़ जमा होने से कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने की आशंका है, इसी का तोड़ निकालते हुए भारतीय रेलवे ने विभिन्न विशेष ट्रैन चलाने का एलान किया है ताकि अनचाही भीड़ को नियंत्रित किया जा सके

 

 

CPRO पंकज कुमार सिंह ने दी जानकारी..

CPRO पंकज कुमार ने जानकारी दी कोरोना के चलते रेलवे स्टेशंन्स पर अत्यधिक भीड़ को नियंत्रित करने हेतु कई विषेस रेल चलाने की घोषणा की है उसी कड़ी में रक्‍सौल से लोकमान्‍य तिलक टर्मिनस के लिए समर स्‍पेशल ट्रेन चलाने का ऐलान भी किया गया है। यह ट्रेन गोरखपुर, लखनऊ, आगरा फोर्ट और रतलाम के रास्ते लोकमान्य तिलक टर्मिनस तक जाएगी और इसी रास्ते आएगी। इस ट्रेन के लिए बुकिंग आज से शुरू हो गई है।   इस ट्रेन का संचलन 21 अप्रैल को लोकमान्य तिलक टर्मिनस से और 24 अप्रैल को रक्सौल से किया जाएगा।

 

 

 करना होगा कोविड नियमों का पालन| –

रेलवे बोर्ड ने एक बयान जारी कर कहा है कि सभी स्पेशल ट्रेनों में कोविड-19 के नियमों और मानदंडों के पालन के लिए केवल कन्फर्म टिकट धारक यात्रियों को ही ट्रेन में बोर्डिंग की इजाजत दी गई है। यात्रा के दौरान यात्रियों के लिए कोविड प्रोटोकॉल के तहत बने नियमों का पालन जरूरी है।  मास्‍क न पहनने वाले यात्रियों से 500 रुपए जुर्माना वसूल किया जाएगा। जहां तहां थूक देने वालों से भी 500 रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया है, साथ ही अपील की यात्री सिर्फ 90 मिनट पहले ही स्टेशन पहुचे और अनचाहा पैनिक उत्तपन न करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.