#

बिहार वासियों के लिए डबल डेकर ट्रेन जल्द ही चलाई जाएगी पूर्व मध्य रेल ने इसके लिए रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेज दिया है जिसकी मंजूरी मिलते ही पहली खेप में एक बिहार तथा एक पश्चिम बंगाल को नई रैक मिल जाएगी। जो प्रस्ताव पूर्व मध्य रेलवे द्वारा भेजा गया है उसमें यह लिखा हुआ है कि इस नए डबल डेकर ट्रेन से दो प्रकार की व्यवस्था शामिल होगी नीचले तल्ले पर माल ढुलाई का कार्य किया जाएगा तथा डबल डेकर ट्रेन के ऊपरी तल्ले पर यात्री आराम से बैठ कर सफर का आनंद लेंगे।

 

भेजे हुए प्रस्ताव में दिल्ली से हावड़ा के बीच डबल डेकर ट्रेन चलाने की मांग की गई है जिसको पटना बरौनी कटिहार के रास्ते पटना तथा क्यूल के रास्ते डबल डेकर ट्रेन चलाने के लिए पूर्व मध्य रेलवे ने रूट निर्धारित किया है दूसरी ओर कोलकाता के पूर्व रेलवे द्वारा कम ऊंचाई वाली डबल डेकर ट्रेन की मांग की गई है, इसमें यात्री तथा माल ढुलाई के विकल्प को भी रखा गया है।

 

रेलवे बोर्ड द्वारा मंजूरी मिलने के बाद पूर्वोत्तर मध्य रेलवे तथा पूर्वोत्तर रेलवे के रेल खंडों को ट्रेन के चलाने के लायक बनाया जाएगा, बड़ी खुशखबरी देते हुए पूर्व मध्य रेलवे के पीआरओ ने यह जानकारी दी है कि उससे पहले ही वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा। किराया के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि पटना से दिल्ली पहुंचने में लगभग 8 घंटे का समय डबल डेकर ट्रेन से लगेगा।

 

फिलहाल पटना से दिल्ली जाने में किसी ट्रेन से 14 घंटे तो किसी ट्रेन से 20 घंटे से भी अधिक समय लगता है। डबल डेकर ट्रेन के शुरू होने से रेल यात्रियों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। ट्रेन का किराया शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन में लगने वाले किराए से कम होगा। डबल डेकर ट्रेन के बोगी के बारे में बात की जाए तो हर एक बोगी में नीचे 48 सीट तथा ऊपर 50 सीटर बनाया जाएगा जिन सीटों को आगे पीछे करने की भी सुविधा दी जाएगी ट्रेन में लगे हुए एलसीडी से आने वाले स्टेशन तथा पिछले स्टेशन की भी जानकारी आसानी से देखी जा सकेगी, आपको बता दें कि इस डबल डेकर ट्रेन का नाम सेमी हाई स्पीड डबल डेकर नाम दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *