बिहारवासियो के लिए अच्छी खबर, बिहार में नेशनल हाईवे के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने बड़ी राशि की स्वीकृति दे दी है। आपको जानकर ख़ुशी होगी की इस नए वित्तीय वर्ष के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से 2988 करोड़ रुपए की स्वीकृति मिली है। केंद्र सरकार से द्वारा सभी राज्यों को नए वित्तीय वर्ष के लिए राशि दी जाती है।

 

उत्तर प्रदेश की बात की जाए तो यूपी को 12489 करोड़ के वार्षिक कार्ययोजना की स्वीकृति दी गयी है। बंगाल के लिए 1601 करोड़ राशि दी गयी है। झारखंड के लिए 3460 करोड़ राशि, तो सबसे अधिक महाराष्ट्र के लिए 23027 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गयी है। एनएच की वार्षिक कार्ययोजना के लिए मिलने वाली सबसे अधिक राशि में महाराष्ट्र सबसे उपर स्थित है।

 

बिहार से सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय को 11000 करोड़ रुपए की कार्ययोजना के लिए राशि की माँग की गयी थी, जिसमें पहली खेप में मंत्रालय द्वारा 3000 करोड़ रुपए जारी की गयी थी। फिर से अब 2988 करोड़ रपाए की स्वीकृति दी गयी है। पिछले वित्तीय वर्ष से यह राशि 1000 करोड़ रुपए अधिक की स्वीकृति मिली है।

 

इस स्वीकृत राशि से बिहार के कायी सड़क परियोजनाओं को बल मिलेगा, जिसमें मुख्यतः बिहार के भागलपुर ज़िले से हस्ड़ीहा होते हुए झारखंड सीमा को जाने वाली सड़क शामिल है। आपको बता दें की इस परियोजना के बजट का मुख्य अंश इस सड़क पर खर्च करने की योजना बन रही है, यह सड़क फ़ोरलेन सड़क होगा।

 

 

इसके अलावा इस स्वीकृत राशि से रामजनकी पथ परियोजना के तहत निर्मित पथ जो उत्तर प्रदेश के सीमा से बिहार के सीवन ज़िले को मिलाती है। इस सड़क की कुल लम्बाई 36 KM है इस सड़क के बन जाने से बिहार के सीवन ज़िले से से उत्तर प्रदेश सड़क मार्ग अत्यंत सुगम हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *