भागलपुरवासियो के लिए अच्छी खबर, शहर के ट्रैफ़िक व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए एक और सराहनीय फ़ैसला लिया गया है। बीते दिन सड़क सुरक्षा संसदीय क्षेत्र समिति की बैठक हुई जो भागलपुर के सांसद अजय मंडल की अध्यक्षता में कई गंभीर समस्याओं पर विचार विमर्श किया गया, जिसमें मुख्यतः ट्रैफ़िक व्यवस्था और सड़क सुरक्षा पर चर्चायें हुई। इस दौरान सिविल सर्जन भी बैठक में मौजूद थे।

 

 

अब आइए जानते है बैठक का क्या परिणाम हुआ, आपको बता दे की इस बैठक में सड़क दुर्घटनाओं में हताहत होने वाले लोगों की संख्या में कमी लाने के लिए ज़िले में चार नए ट्रामा सेंटर बनाने का फ़ैशल लिया गया है। ताकि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को तुरंत बेहतर इलाज के लिए ट्राम सेंटर में भर्ती करा कर उसे बेहतरीन इलाज तुरंत दी जा सके। ये चरो ट्रामा सेंटर भागलपुर में मुख्यतः नवगछिया अनुमंडल अस्पताल, सुल्तानगंज रेफरल अस्पताल,

 

 

कहलगांव और जगदीशपुर अस्पताल में बनाए जाएँगे। अब सवाल आता है ट्रैफ़िक व्यवस्था का तो सुनिए, अगर ट्रैफ़िक व्यवस्था अच्छी हो तो सड़क दुर्घटना में अपने आप कमी आ जाएगी, इस बात पर विचार करते हुए भागलपुर के ट्रैफ़िक व्यवस्था का मज़बूत बनाने के लिए स्मार्ट सिटी के अधिकारी ने सांसद को यह जानकारी दी है की शहर में 16 स्थानो पर इलेक्ट्रॉनिक ट्रैफ़िक सिग्नल लगाने की तैयारी चल रही है।

 

 

निविदा की प्रक्रिया पूरी होने के बाद जल ही इलेक्ट्रॉनिक ट्राफ़िक सिस्टम भागलपुर के इन 16 चौराहों पर दिखाई देने लगेगा। जानकारी के लिए आपको बता दें की भागलपुर के जीरो माइल चौक, मनाली चौक, तिलकामांझी चौक, आदमपुर चौक, नयाबाजार चौक, सराय चौक, नाथनगर चौक, ततारपुर चौक, रेलवे स्टेशन, गुड़हट्टा चौक, अलीगंज चौक, भीखनपुर चौक, कचहरी चौक, घंटाघर चौक, खलीफाबाग चौक, कोतवाली चौक पर इस सिस्टम को लगाया जाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *