बिहार,( कुलसूम फात्मा )  बिहार के सभी जिले के बाईपास का कंस्ट्रक्शन कार्य जल्द ही पूरा हो जाएगा क्योंकि राज्य में प्रस्तावित सभी बाईपास के निर्माण की गति में तेजी कर दी गई है और इस योजना पर अगले महीने से कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा। बिहार राज्य के सभी बाईपास का कंस्ट्रक्शन कार्य फरवरी से प्रारंभ हो जाएगा

 

 

 

बुधवार को पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने इस बाबत अधिकारियों को निर्देश दिये की प्रस्तावित किए हुए सभी बाईपास मार्ग और उसका कंस्ट्रक्शन कार्य डीपीआर के साथ-साथ बाकी कार्य प्रगति के साथ करें और इस योजना की मंजूरी वित्तीय वर्ष 2021 व 22 तथा 2022 व 23 में दी जानी है जिससे की कंस्ट्रक्शन कार्य 2023 या 24 तक पूरा हो जाए।

 

 

अमृतलाल ने सभी इंजीनियर को निर्देश देते हुए कहा के सभी चिन्हित किए हुए बायपास मार्ग पर प्रोजेक्ट का डीपीआर बनाने का वक्त सीमा को निर्धारित कर लिया जाए। और शुरुआत में हर एक प्रमंडल से कम से कम 2 डीपीआर भेजा जाए। प्रथम चरण में समर्पित किए जाने वाले डीपीआर की प्रशासनिक मंजूरी दे दी जाएगी और दूसरे चरण में समर्पित किए जाने वाले डीपीआर की प्रशासनिक मंजूरी आने वाले वित्तीय वर्ष में दी जाएगी। फरवरी प्रारंभ में बाईपास प्लान का लांच कर दिया जाएगा। इसके जरिए डीपीआर प्राप्त होते ही प्रशासनिक मंजूरी देकर आगे की प्रक्रिया को किया जाएगा।

 

 

आपको बता दें की बाईपास पथ की चौड़ाई जो होगी वह न्यूनतम 7 मीटर होगी निर्देश दिए के पथ प्रमंडल के कार्यालय इंजीनियर को फौरन अपने अभियंताओं के जरिए से डीपीआर बनाना प्रारंभ कर दें। और कंसलटेंट की सेवा नहीं ली जाएगी। उन्होंने कहा अगर किसी ऑप्शन में एलिवेटेड संरचना का निर्माण प्रस्तावित हो तो उसका भी डीपीआर बनाने तथा उस संरचना के कंस्ट्रक्शन के लिए राज्य पुल का निर्माण निगम से रिक्वेस्ट कर किया जाए तथा इसकी सूचना पथ निर्माण डिपार्टमेंट के मुख्य अभियंता को भी दी जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.