गोरखपुर,( कुलसूम फात्मा ) कोरोना से बचाव और नियंत्रण के लिए यूपी सरकार ने रात्रिकालीन कर्फ्यू रात 9:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक लागू किया जिसमें सरकारी अधिकारियों, कर्मचारियों तथा होमगार्ड और नागरिक सुरक्षा अग्निशमन,सार्वजनिक परिवहन से जुड़े कर्मचारी तथा सभी निजी चिकित्सालयों के डॉक्टर के साथ साथ अन्य को भी छूट दी गई है  यह कर्फ्यू इस माह की 18 तारीख तक लागू रहेगा। रात 9:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक लोग घर से बाहर नही निकलेगें और जो लोग महामारी अधिनियम के रूल का पालन नहीं करेंगे उनपर मुकदमे के साथ जुर्माना वसूला जाएगा।

 

 

 

कर्फ्यू में इन सेवाओं को दी गई छूट ।

सरकारी अधिकारियों, कर्मचारियों तथा होमगार्ड और नागरिक सुरक्षा अग्निशमन,सार्वजनिक परिवहन से जुड़े कर्मचारी , सभी निजी चिकित्सालयों के डॉक्टर, तथा बाकी स्टाफ वैध कार्ड के साथ कार्यस्थल के लिए आवागमन कर पाएंगे, मांगलिक कार्यक्रम करने के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना पड़ेगा। कंटेनमेंट जोन के बाहर किसी भी बंद स्थान तथा हॉल कमरे या फिर खुले स्थान की निर्धारित क्षमता का 50% तथा एक वक्त में ज्यादा से ज्यादा 100 व्यक्तियों को ही उपस्थित रहने की परमिशन दी जाएगी। कार्यक्रम रात के 10:00 बजे खत्म करने की कोशिश करनी होगी।

 

 

इन्हें भी मिली छूठ –  डेेरी तथा दूध ,पशु चारा, फार्मास्यूटिकल्स दवाएं , चिकित्सा उपकरण,एटीएम और दूरसंचार,इंटरनेट सेवाएं, प्रसारण तथा केबल सेवा, आइटीईएस सक्षम सेवाएं और ई-कॉमर्स के जरिए से खाद दवाएं ,चिकित्सा उपकरण का वितरण, पेट्रोल पंप के साथ-साथ एलपीजी, सीएनजी, पेट्रोलियम गैस, खुदरा तथा भंडारण आउटलेट, बिजली उत्पादन तथा वितरण इकाइयों से संबंधित सेवाएं, निजी सुरक्षा सेवाएं , जरूरी वस्तुओं की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट ,ऐसी यूनिट सेवाएं जिन्हें लगातार प्रोसेसिंग की आवश्यकता है और उपर्युक्त गतिविधियों के लिए प्रयुक्त वाहन टैक्सी,ऑटो चालक रात्रि कर्फ्यू के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने पर संचालित किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.