बिहार,( कुलसूम फात्मा )  गरीबी ही क्यों न हो लेकिन मां बाप अपने बच्चों को अपने से दूर नहीं करते हैं। वह रुखा सुखा खाते हैं और खिलाते हैं परंतु बच्चों को अपने गले से लगाए रहते हैं। लेकिन यहां ऐसा नहीं हुआ इस घटना से लोगों के होश उड़ गए  एक पिता ने अपनी बेटी को पैसे के लिए गरीबी से तंग आकर बेच डाला बिहार के वैशाली जनपद में एक पिता ने अपनी 2 वर्षीय मासूम बच्ची को बेच दिया।

 

 

बच्चे की मां ने इस बात की जानकारी जब पाई तो वह बिलख पड़ी है और पड़ोसियों का साथ लेकर पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने पिता को निशानदेही पर बच्ची को पातेपुर थाना एरिया के सलेमपुर लखनी गांव से खरीदार जितेंद्र राम के घर से उठा लिया। मौके से पुलिस ने बच्ची को खरीदने वाले निसंतान जितेंद्र राम को भी गिरफ्तार कर लिया वहीं दूसरी ओर बच्ची के पिता रुदल साहनी की भी इस मामले में गिरफ्तारी की गई। घटना से संबंधित 2 वर्षीय बच्ची की मां ने पूछताछ के बाद बताया के पति रुदल साल भर से काम धंधा नहीं कर रहे हैं वह मजदूरी करके बच्चों का पालन पोषण करती है।

 

ये है पूरा मामला।

पत्नी ने बताया पति ना ही काम करता है और ना उस पर पालन पोषण की बच्चों की जिम्मेदारी है। इसके बाद भी ₹18000 में बच्ची को खरीदार के हाथों बेच दिया।  बच्ची की मां जब मजदूरी से शाम को घर लौटी तो उसे घर में नहीं पाया पति से पूछा, पति के पास रुपए देखें और महिला को शक हुआ। उसने आसपास के लोगों को सूचना दी और पड़ोसियों का साथ लिया पड़ोसियों के बहुत ज्यादा पूछताछ करने तथा प्रेशराइज्ड करने के बाद रुदल साहनी ने सच बोला और बताया के बच्ची को वह दूसरे के हाथ पैसों के लिए बेच आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.