बिहार,( कुलसूम फात्मा )  बिहार में 1 बच्चे का जन्म कुछ अजीबोगरीब ही तरीके से हुआ जिससे के जन्म के बाद प्रसूति कक्ष में प्रसूति करने वाले स्वास्थ्य कर्मी उसे देखकर बौखला गए जी हां यह बच्चा कुछ विचित्र ही तरीके का था, जन्म की सूचना मिलते ही लोग अस्पताल में उसे देखने के लिए काफी तादाद में दिखे

 

यह मामला गुरुवार को पेश आया जो के हथुआ जिले के अनुमंडल अस्पताल का है बच्चे के जन्म के कुछ देर के बाद ही बच्चे ने दम तोड़ दिया बता दें बिहार के गोपालगंज में यह मामला कोई नया मामला नहीं है क्योंकि बिहार में इस तरह के कई और भी केस सामने आ चुके हैं।

 

जानकारों ने बताया जिले के साहिबा चक्र गांव के चुनचुन यादव की पत्नी ने हैरतअंगेज हो जाने वाले बच्चे को जन्म दिया जिसे देखने के लिए अस्पताल में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी ये बच्चा केवल 3 घंटे तक ही जिंदा रहा, परंतु इस बीच नवजात को देखकर प्रसूति कक्ष के डॉक्टर तथा बाकी नर्सिंग स्टाफ भी काफी हैरान थे इस बच्चे की त्वचा पर केवल सफेद रंग का आवरण था और दोनों आंखें लाल थी बड़ी बड़ी थी जबड़े में भी वयस्कों जैसे दांत दिखे

 

आइए जानते हैं क्यों होता है ऐसे बच्चों का जन्म

बता दे ऐसे बच्चों का जन्म डॉक्टर ने कहा, 100 लाख बच्चों में से एक ऐसा होता है। मां-बाप के जेनेटिक म्यूटेशन के कारण से ऐसे बच्चों का जन्म होता है। उन्होंने बताया ऐसे बच्चे अधिकतर जिंदा नहीं रह पाते हैं उनकी अधिकतर आयु 7 दिन ही होती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *