भारत में कोरोनावायरस महामारी के फैलने के साथ-साथ कुछ असामाजिक तत्व जो कि एंबुलेंस के नाम पर लोगों से जरूरत से ज्यादा मनमाना पैसे भाड़ा के तौर पर वसूल रहे हैं जिस पर, किसी भी राज्यों की सरकारों का कोई कंट्रोल नहीं है, बिहार राज्य की बात की जाए तो स्वास्थ्य विभाग बिहार सरकार में इस पर लगाम लगाते हुए ऑफिशियल टि्वटर हैंडल आईपीआरडी बिहार से एक महत्वपूर्ण सूचना जारी किया है।

 

 

कोविड-19 से उत्पन्न स्थिति को देखते हुए राज्य में मरीजों को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाने हेतु निजी एंबुलेंस के किराए का दर निर्धारित किया गया है। इसमें कई वाहनों में मौजूद सुविधा के अनुसार उसका किराया तय किया गया है, छोटी कार जो बिना ऐसी के है 50 किलोमीटर तक आने जाने का किराया ₹1500 निर्धारित किया गया है। वही छोटी कार जो कि वातानुकूलित है 50 किलोमीटर तक आने जाने का किराया ₹17oo निर्धारित किया गया। बोलोरो सुमो मार्शल जो बिना एसी वाले वाहन हैं 50 किलोमीटर तक आने जाने का किराया ₹1800 निर्धारित है, वहीं गाड़ियों में अगर ऐसी सुविधा है तो इनका किराया बढ़कर ₹2100 निर्धारित किया गया है। ऊपर लिखे सभी वाहनों में 50 किलोमीटर से अधिक यात्रा करने पर 18 रुपए प्रति किलोमीटर अतिरिक्त राशि देनी होगी।

 

 

मैक्सी सिटी राइड विंगर टेंपो ट्रैवलर एवं समकक्ष ऐसे वाहन जो कि 14 से 22 सीटों वाले हैं ऐसे वाहनों का 50 किलोमीटर आने जाने का किराया ₹2500 निर्धारित किया गया है एवं 50 किलोमीटर से अधिक यात्रा करने पर ₹25 प्रति किलोमीटर की दर से अतिरिक्त राशि देनी होगी। जाइलो स्कॉर्पियो क्वालिस टवेरा ऐसे वातानुकूलित वाहनों के लिए 50 किलोमीटर आने जाने का किराया 2500 सौ रुपए निर्धारित किया गया है एवं 50 किलोमीटर से अधिक यात्रा करने पर ₹25 प्रति किलोमीटर अतिरिक्त राशि देनी होगी।

 

 

अगर कोई भी व्यक्ति इस नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके विरुध बिहार एपिडेमिक डिजीज कोविड-19 रेगुलेशन 2021 के प्रावधानों के अंतर्गत कड़ी कार्यवाही की जाएगी। जनता के लिए किसी भी प्रकार की शिकायत एवं समस्या के समाधान के लिए नियंत्रण कक्ष का नंबर जारी किया गया है जो इस प्रकार है 06202751107, यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग तथा सूचना एवं जनसंपर्क विभाग बिहार द्वारा जनहित में जारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.