Wednesday, January 19

बिहार के इन 11 ज़िलों की बदलेगी क़िस्मत, नई व्यवस्था के तहत पूरे एरिया की वास्तविक मैपिंग

बिहार के कई शहरों की सूरत जल्द ही बदलने वाली है क्योंकि अब सरकार ने बिहार के प्रमुख शहरों का मास्टर प्लान बनाने का काम शुरू किया है। इसके तहत बिहार के कई शहरों में भौगोलिक सूचना प्रणाली पर आधारित मास्टर प्लान तैयार किया जाएगा जिसमें पूरे एरिया की वास्तविक मैपिंग होगी।

 

इस मैपिंग में जमीन सड़क प्रॉपर्टी की स्थिति को आसानी से पता लगाया जा सकेगा, सिर्फ एक क्लिक पर जमीन की वास्तविक स्थिति का पता स्क्रीन पर कोई भी देख सकेगा, इस कार्य के लिए 17 जनवरी तक ऑनलाइन आवेदन करना है। सीतामढ़ी लखीसराय समेत नौ शहरों की भौगोलिक सूचना प्रणाली पर मैपिंग की जानी है।

 

 

इस नई तकनीक को तीन श्रेणियों में बांटा गया है, पहले श्रेणी में अररिया फारबिसगंज और खगड़िया जिला शामिल है, वहीं दूसरी श्रेणी में लखीसराय जमुई, और भभुआ जिला शामिल है तथा तीसरे श्रेणी में शिवहर सीतामढ़ी और मधुबनी जिले को शामिल किया गया है। इन जिलों के अलावा बक्सर किशनगंज कटिहार सासाराम डेहरी मोतिहारी औरंगाबाद हाजीपुर सिवान बेतिया और बगहा जैसे शहर भी शामिल है।

 

 

इन शहरों में मास्टर प्लान के तहत पहले शहर और आसपास के गांव को जोड़कर आयोजन क्षेत्र तय किया गया है और अब भूमि का इस्तेमाल को चिन्हित करके मास्टर प्लान पर काम शुरू होगा, इस मास्टर प्लान के तहत इन शहरों में सड़क नाले व्यवसायिक इलाके एवं आवासीय इलाकों आदि का जिक्र होगा, इन सभी को एक क्लिक पर ऑनलाइन कहीं से भी देखा जा सकेगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: