Tuesday, January 25

बिहार के पिएमसीएच पहुँचिये फ़ास्ट फ़ोरलेन सड़क से, जाने पहुचने का शानदार रूट प्लान

मंगलवार के दिन दीघा से दीदारगंज तक जेपी गंगा पथ बनाने हेतु आईआईटी रुड़की के विशेषज्ञों ने निरीक्षण किया जिसमें रिपोर्ट के जरिए निविदा निर्माण एजेंसी को भी चयनित किया जाएगा। बता दें यह फैसला बीएसआरडीसीएल उच्च स्तरीय लिया गया ।

 

बाढ़ से प्रभावित हुआ था सड़क निर्माण।

दीघा से दीदारगंज तक जेपी गंगा पथ का कार्य गंगा नदी में अधिक पानी आने से प्रभावित हो गया था और निरुद्दीन घाट से धर्मशाला घाट तक निर्माण कार्य ठेकेदारों को सौपा गया था परंतु ये कार्य बाढ़ के कारण ठेकेदार शुरू नहीं कर पाए उपर्युक्त के बनने से लाभ होगा की पटना शहर के अंदर यातायात के दबाव को मुक्त मिलेगी। मंगलवार के दिन ही रिव्यु के पश्चात मीटिंग हुई जिसमें बीएसआरडीसीएल के प्रबंध निदेशक पंकज कुमार तथा मुख्य महाप्रबंधक संजय कुमार, महाप्रबंधक छवि शंकर वर्मा, ज्योति भूषण श्रीवास्तव तथा उप महाप्रबंधक अरुण कुमार भी मीटिंग में उपस्थित थे।

 

इस तरह से होगा पथ निर्माण।

प्रारंभिक में 5.90 किमी में पथ पटरी के अलावा दोनों छोर पर पांच 5 मीटर की हरित मिट्टी तथा गंगा नदी की ओर वाले तट पर 5 मीटर की वाकिंग ट्रेक का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही पीएमसीएच में मरीजों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आने जाने के लिए फास्ट फोर लेन की सड़क कनेक्टिविटी भी दी जा रही है। मीटिंग में बताया गया एम्स दीघा पथ जेपी सेतु तथा आरब्लॉक दीघा सड़क के संपर्क के लिए दीघा छोर पर विश्वस्तरीय रोटरी का भी निर्माण कराया जा रहा है इस तरह से आम नागरिकों के धार्मिक तथा सामाजिक कार्य के लिए गंगा नदी के तट पर पहुंचने हेतु टोटल ये 13 स्थान है जहां अंडरपास बनवाया गया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: