रूस और यूक्रेन में हो रहे युद्ध का असर बिहार के भी पड़ सकता है, क्योंकि बिहार के भागलपुर जिले से यूरोपीय देशों में ड्रेस मटेरियल तथा पर्दा काफी मात्रा में भेजा जाता है, ऐसे में अगर यह विवाद जल्द खत्म नहीं हुआ तो भागलपुर के बुनकरों को आर्डर के कैंसिल होने का डर सता रहा है। ऐसे में अगर ऑर्डर कैंसिल होता है तो बुनकरों को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

 

इसके अलावा इसका असर खाद्य पदार्थों पर भी देखने को मिल रहा है, एक रिपोर्ट के अनुसार खुदरा व्यवसाई ने बताया कि पायल जो कि ₹120 लीटर था वह ₹140 हो गया है। प्रतिदिन इस्तेमाल किए जाने वाले दान में भी ₹15 की बढ़ोतरी देखी गई है जो पहले 135 से ₹140 लीटर बिक रही थी ₹150 हो गया है।

 

सबसे अधिक बढ़ोतरी सब्जी में इस्तेमाल किए जाने वाले जिरा में देखने को मिल रहा है जिस पर लगभग प्रति किलो ₹80 की बढ़ोतरी देखी जा रही है। रिकॉर्ड के अनुसार जो जीरा पहले 190 से ₹200 किलो बिकता था वह बढ़कर ₹270 हो चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.