शुक्रवार, दिसम्बर 3

सु-शांत का असर बिहार और यूपी में 10 वी के छात्रा ने लगाया फंदा, डॉक्टर ने मृत घोषित किया

बाॅलीवुड स्टार सुशांत सिंह राजपूत की माैत के बाद राजेंद्रनगर राेड नंबर 12 में रहने वाली छात्रा इशिका कुमारी पिछले दाे दिनाें से डिप्रेशन में चली गई थी। साेमवार काे 17 साल की इशिका ने दिनभर सुशांत के सुसाइड से लेकर दाह-संस्कार की स्टाेरी माेबाइल व टीवी पर देखी। यही नहीं उसने सुशांत की फिल्म भी देखी। साेमवार की रात मां छत पर टहलने गई थी। रात 10.50 में जब मां नीचे आई ताे देखा कि उन्हीं के साड़ी से इशिका ने फंदा लगा लिया और पंखे से झूल रही है।

आननफानन में मां गाैरी ने किसी तरह फंदे से इशिका काे उतारा। फिर रिश्तेदाराें काे फाेन करने के साथ ही उसे लेकर पीएमसीएच आई जहां डाॅक्टराें ने उसे मृत घाेषित कर दिया। एक करीबी रिश्तेदार ने बताया कि उसने इसी साल कंकड़बाग स्थित हाॅलीमिशन स्कूल से सीबीएसई 10 वीं की परीक्षा भी दी है। पिता रंजन कुमार प्राइवेट काम करते हैं। मां लखनऊ की एक पब्लिशिंग कंपनी में पटना में काम करती हैं। इशिका दाे बहनाें में सबसे बड़ी थी।

मां गाैरी देवी ने पुलिस काे दिए बयान में कहा कि मैंने उसे सुशांत की सुसाइड स्टाेरी माेबाइल और टीवी पर देखने से मना किया। लेकिन नहीं माना। उसकी परीक्षा भी ठीक नहीं गई थी। वह पहले से ही डिप्रेशन में थी। इसी बीच सुशांत की माैत के बाद वह और डिप्रेशन में चली गई। कदमकुआँ थानेदार निशिकांत निशि ने बताया कि माैके से काेई सुसाइड नाेट नहीं मिला है। यूडी केस दर्ज किया गया है।


उत्तर प्रदेश के बरेली में 10वीं कक्षा के छात्र ने मंगलवार को आत्महत्या कर ली है। चात्र ने खुदकुशी करने से पहले छाेड़ी चिट्ठी में लिखा है, ‘जब सुशांत आत्महत्या कर सकता है तो मैं क्यों नहीं?’ उसने यह भी लिखा है कि उसमें किन्नर वाले लक्षण थे, इसलिए लोग उसका मजाक उड़ाते थे। उसका कहीं भी आना-जाना मुश्किल था। घर में भी हमेशा परेशान रहता था। इसी से आजिज होकर अपनी जान देने का फैसला किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *