बुधवार, दिसम्बर 8

सीएम सिटी गोरखपुर में आधी शहर की ये बड़ी समस्या होगी ख़त्म, गोरखपुरवासियो के लिए बड़ी खुशखबरी

सीएम सिटी गोरखपुर के निवासियों को शीघ्र बड़ी राहत मिलने वाली है। शहर में जाम की समस्‍या काफी हद तक दूर हाने जा रही है। कौवाबाग अंडरपास फरवरी में खुलने जा रहा है। इसके खुल जाने से अाधे शहर की बड़ी समस्‍या का समाधान हो जाएगा। उधर, धर्मशाला ओवरब्रिज के नीचे का क्षतिग्रस्‍त हिस्‍से की मरम्‍मत होने के बाद उसकाे यातायात के लिए खोल दिया गया है। बहुप्रतीक्षित कौवाबाग फरवरी में आम जनता के लिए खुल जाएगा। इंजीनियरों ने क्रासिंग पर रेल लाइन के नीचे लगभग 43 मीटर लंबा बाक्स सेट कर दिए हैं। दक्षिणी एप्रोच मार्ग और शेड लगभग बनकर तैयार हैं। उत्तर की तरफ भी जोरशोर से कार्य चल रहा है।

जनवरी तक एप्रोच मार्ग के कार्य भी पूरे कर लिए जाएंगे। एप्रोच मार्ग पर अति आधुनिक शेड लगाने का कार्य जारी है। शेड लग जाने से अंदर अंधेरा नहीं होगा, बारिश का पानी भी जमा नहीं होगा। वैसे पानी निकासी के लिए दो बड़े पंप लगाए जाएंगे। एप्रोच मार्ग के बाहरी तरफ पौधे लगाए जा रहे हैं, ताकि आसपास हरियाली बनी रहे। अंदर एप्रोच मार्ग की दोनों दीवारों पर सफेद रंग की पुट्टी भी होने लगी है। रेलवे प्रशासन दीवारों का उपयोग आम लोगों को पर्यावरण संरक्षण और स्व’छता का संदेश देने के लिए करेगा। इसके लिए खास योजना तैयार की है। जिसमें जनवरी के अंतिम सप्ताह में प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी।

प्रतियोगिता में विश्वविद्यालय सहित कॉलेजों के छात्रों को पर्यावरण और स्व’छता से संबंधित चित्रकारी के लिए आमंत्रित किया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ सहित अन्य प्रतिभागियों को भी पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। एप्रोच मार्ग की दीवारों पर उकेरे गए चित्र लोगों को आकर्षित करने के साथ ही पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक भी करेंगे। लगभग 15 करोड़ रुपये से अंडरपास का निर्माण हो रहा है। इसके बन जाने से हजारों लोगों की राह आसान हो जाएगी। क्रासिंग बंद होने से रेलकर्मी ही नहीं आम लोग भी असुरन-धर्मशाला तथा चारफाटक ओवरब्रिज होकर आवागमन कर रहे हैं।

अंडरपास का निर्माण मार्च 2019 तक पूरा होना था। लेकिन क्रासिंग के नीचे नमी होने से 13 मीटर बाक्स धंस गया। इसके चलते कार्य पूरा होने में करीब एक वर्ष का समय अधिक लग गया है। फिनिशिंग कार्य तेजी से चल रहा है। इसे शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद कौवाबाग अंडरपास को जनता के सुगम आवागमन के लिए खोल दिया जाएगा। – पंकज कुमार सिंह, सीपीआरओ, एनई रेलवे खिचड़ी पर्व के मद्देनजर धर्मशाला ओवरब्रिज के नीचे सड़क का निर्माण पूरा कर लिया गया है। पिछले कई दिनों से यहां बाधित आवागमन बुधवार को दोपहर बाद शुरू हो गया। सड़क बन जाने से लोगों को काफी सुविधा हो रही है।

गोरखपुर विकास प्राधिकरण को यह सड़क बनाने की जिम्मेदारी दी गई थी। सबसे पहले रेलवे ब्रिज के नीचे बारी-बारी से एक-एक पटरी का निर्माण किया गया। उसके बाद दोनों ओर संपर्क मार्ग का निर्माण हुआ। आरसीसी सड़क होने के कारण ढलाई के कई दिनों बाद तक यहां आवागमन रोक दिया गया था। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। पर, बुधवार से इस मार्ग पर आवागमन शुरू हो जाने से उनकी परेशानी दूर हो गई।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *