शुक्रवार, दिसम्बर 3

सीएम नितीश का ऐलान, इन कार्यो पर नहीं रहेगा किसी प्रकार का रोक, वीडियो कॉल से नया निर्देश जा’री

लॉकडाउन की अविध में जिन क्षेत्रों में काम शुरू किया जाना है, उस संबंध में केंद्र से आए गाइडलाइन पर मु्ख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विभिन्न विभागों के आला अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की। इस दौरान उन्होंने कई निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कृषि कार्याें पर किसी तरह का कोई रोक नहीं है। गेहूं की खरीद के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं की जाएं। पैक्स के माध्यम से गेहूं की खरीदारी सुनिश्चत की जाए ताकि किसानों को उनके पंचायत में ही फसल का उचित मूल्य मिल सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग, पथ निर्माण विभाग, पीएचईडी व लघु जल संसाधन विभाग अपनी योजनाओं को तेजी से क्रियान्वित कराएं।

जीविका के माध्‍यम से बनेगा राशन कार्ड

मुख्यमंत्री ने जल संसाधन विभाग को निर्देश दिया कि पूरी सक्रियता से कटाव निरोधक एवं बाढ़ सुरक्षात्मक कार्याें को ससमय पूरा कराएं। स्थानीय प्रशासन भी इस काम में मदद करे। शीघ्र काम आरंभ किया जाए, ताकि जरूरतमंद लोगों और मजदूरों को रोजगार मिल सके। उन्‍हाेंने कहा कि जिन लोगों के राशन कार्ड का आवेदन अभी तक पेंडिंग व अस्वीकृत है, उनकी जांच तेजी कर उन्हें राशन कार्ड दिया जाए। जीविका के माध्यम से ऐसे परिवारों का चयन कर लें, जिनका राशन कार्ड अभी तक नहीं बना है।

शुरू किए गए सात निश्‍चय से जुड़े काम

मुख्यमंत्री ने कहा कि गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए हम कुछ खाद्य प्रोसेसिंग यूनिट भी चालू कर सकते हैं। जूट उद्योग, माइनिंग उद्योग तथा ऑयल गैस रिफाइनरी शुरू किए जा सकते हैं। सात निश्चय से जुड़े काम जैसे हर घर नल का जल, पक्की गली नालियां, शौचालय नर्माण, ताला व पोखरों का जीर्णाेद्धार के काम शुरू कर दिए गए हैं। मनरेगा के अंतर्गत एक एकड़ से कम क्षेत्र वाले तालाबों का निर्माण शीघ्रता से हो।

किसी भी चीज की कमी नहीं रहे

वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिया कि वेंटिलेटर, ऑक्सीजन सिलिंडर, जांच किट, मास्क व पीपीई किट की लगातार आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। किसी भी चीज की कोई कमी नहीं रहे। एईएस व जेई के लिए भी चिकित्सकीय प्रबंधन का काम होते रहना चाहिए। जो भी निर्माण कार्य हो, वहां मजदूरों को जीविका समूह द्वारा निर्मित मास्क मुफ्त में उपलब्ध कराया जाए।