बुधवार, दिसम्बर 8

समस्त भागलपुरवासियों के लिए खुशखबरी, भागलपुर से दिल्ली रुट पर नयी सबसे जबरदस्त ट्रेन चलाने का रास्ता साफ़

भागलपुर के रास्ते नई दिल्ली के लिए राजधानी एक्सप्रेस के परिचालन की उम्मीद जग गई है। मालदा मंडल में आयोजित मंडलीय समिति की बैठक में राज्यसभा सदस्य कहकशां परवीन ने पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक सुनीत शर्मा के समक्ष हावड़ा-नई दिल्ली राजधानी और सियालदह-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का परिचालन सप्ताह में तीन दिन भागलपुर के रास्ते करने का प्रस्ताव दिया है। महाप्रबंधक ने इसपर गंभीरता से विचार करने की बात कही है। सबकुछ ठीक रहा तो राजधानी एक्सप्रेस से भागलपुर के लोग नई दिल्ली का सफर जल्द कर सकेंगे।

बैठक में कहकशा ने कवि गुरु एक्सप्रेस में स्लीपर और एसी थ्री कोच लगाते हुए इसका विस्तार जमालपुर तक करने की मांग की। भागलपुर से टाटाटनगर और पुणे के लिए भी नई ट्रेन सेवा शुरू करने का प्रस्ताव भी दिया है। अमरनाथ एक्सप्रेस, एलटीटी एक्सप्रेस, सूरत, अजमेर एक्सप्रेस और रांची एक्सप्रेस का परिचालन प्रत्येक दिन करने की मांग पुरजोर तरीके से उठाई। बांका से नई दिल्ली के लिए और विक्रमशिला एक्सप्रेस की तर्ज पर एक नई ट्रेन भी देने की मांग की। बैठक में अपर महाप्रबंधक, डीआआरएम यतेंद्र कुमार, भागलपुर सांसद प्रतिनिधि प्रदीप कुमार, बांका और मुंगेर के सांसद प्रतिनिधि थे।

अभी साहिबगंज से मालदा के बीच चल रही 53401 पैसेंजर ट्रेन का विस्तार भागलपुर तक करने को कहा है। साथ ही लंबी दूरी की ट्रेनों में पेंट्रीकार कोच लगाने, सुल्तानगंज स्टेशन का सुंदरीकरण, सुपर एक्सप्रेस को एलएचबी रैक में तब्दील, जंक्शन पर लिफ्ट, स्कैनर और एक और अतिरिक्त स्वचालित सीढ़ी बनवाने की मांग की। रांची से आने वाली वनांचल एक्सप्रेस को बेवजह कहलगांव-घोघा-सबौर के बीच नहीं रोकने की मांग की। स्टेशनों पर शराबबंदी, दहेज उत्पीडऩ, बाल-विवाह जैसे समाज सुधार निर्देश लगाने और स्टेशन और कोचों में मंजूषा पेंटिंग लगाने की बात भी कही।

भागलपुर के सांसद अजय मंडल के प्रतिनिधि प्रदीप कुमार बैठक में पहुंचे थे। जीएम के समक्ष उन्होंने पीरपैंती से अकबरनगर तक के छोटे स्टेशनों पर यात्री सुविधा बढ़ाने, पंप सेट लगाने, समपार, गोनूधाम स्टेशन को डेवलप, कटवा पैसेंजर के बाद साहिबगंज के लिए नई ट्रेन, स्टेशन और ट्रेनों में मंजूषा पेंटिंग, नई दिल्ली के लिए नई ट्रेन, विक्रमशिला का नई दिल्ली तक परिचालन कराने सहित कई मांगों का प्रस्ताव दिए।

श्रावणी मेला के कारण अंतरराष्ट्रीय ख्याति के सुल्तानगंज स्टेशन का स्वरूप अब शीघ्र ही तीर्थनगरी के अनुरूप दिखेगा। मालदा रेल मंडल मुख्यालय में सांसद और सांसद प्रतिनिधियों की बैठक में उक्त मंतव्य पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक सुनीत शर्मा ने व्यक्त किये हैं। बैठक में शामिल बांका सांसद गिरधारी यादव के प्रतिनिधि पवन केसान ने जानकारी देते हुए बताया कि जीएम ने स्टेशन के सर्कुलेटिंग एरिया सहित सामने के लुक को बदलने का निर्देश दिया है। बैठक में जीएम ने सुल्तानगंज में भागलपुर यशवंतपुर साप्ताहिक अंग एक्सप्रेस और देवघर अगरतला साप्ताहिक एक्सप्रेस के ठहराव की भी सैद्धांतिक सहमति दी है।

साथ ही प्लेटफार्म संख्या एक पर स्थित नए भवन के सामने प्लेटफार्म संख्या दो-तीन पर शेड बनाने का निर्देश मंडल रेल प्रबंधक को दिया है। महाप्रबंधक श्री शर्मा ने कहा कि अगले दो से तीन महीने में सुल्तानगंज स्टेशन पर अधूरे फुट ओवर ब्रिज को पूरा कर लिया जाएगा। वाई फाई चालू कर दिया जाएगा और वर्ष के 11 महीने बंद रहने वाले डॉरमेट्री को भी नियमित किया जाएगा। साथ ही सुल्तानगंज में रेलवे की खाली पड़ी लगभग 22 एकड़ जमीन के व्यावसायिक उपयोग की संभावनाओं का पता लगाने का निर्दैश भी जीएम ने दिया है।

2 Comments

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *