शुक्रवार, दिसम्बर 3

शिवरात्री से नयी तेजस ट्रेन का ऐ’लान, नाम काशी महाकाल एक्सप्रेस, पहली बार रात में प्राइवेट ट्रेन

भारतीय रेलवे इस महीने अपनी तीसरी प्राइवेट ट्रेन का परिचालन शुरू करेगी। भारतीय रेलवे की अनुषंगी IRCTC दो तेजस ट्रेनों का परिचालन कर रही है आईआरसीटीसी तीसरी ट्रेन का परिचालन इंदौर और वाराणसी के बीच करेगी। ट्रेन का नाम काशी महाकाल एक्सप्रेस है। इस ट्रेन की सभी बोगियां वातानुकूलित होंगी। इस ट्रेन का परिचालन सप्ताह में तीन दिन किया जाएगा।

यह पहली प्राइवेट ट्रेन है, जो रातभर चलने के बाद गंतव्य तक पहुंचेंगी। वर्तमान में आईआरसीटीसी की दोनों तेजस ट्रेनें दिनभर में ही दोनों तरफ का ट्रिप पूरा कर लेती हैं। इस ट्रेन का परिचालन महाशिवरात्रि से ठीक एक दिन पहले यानी 20 फरवरी को शुरू किया जाएगा।

IRCTC ने ट्वीट कर कहा है कि नई ट्रेन स्टेट-ऑफ-द-आर्ट फेसिलिटी के साथ आएगी। आईआरसीटीसी का दावा है कि इन ट्रेनों में यात्रियों को ज्यादा आरामदायक सीटें मिलेंगी। इसके अलावा ट्रेन में एलईडी लाइट, सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे। इन्हें यात्रियों की सुरक्षा और संरक्षा के लिए लगाया जा रहा है। मोबाइल में कई मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट होंगे।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने 12 जनवरी को पहली बार इंदौर-वाराणसी के बीच प्राइवेट ट्रेन चलाने के फैसले के बारे में ऐ’लान किया था। उन्होंने कहा था कि जल्द ही मध्य प्रदेश के उज्जैन से काशी विश्वनाथ मन्दिर के लिए प्रसिद्ध उत्तर प्रदेश के वाराणसी के बीच विशेष ट्रेन का परिचालन शुरू किया जाएगा। पिछले कुछ महीनों से IRCTC दिल्ली-लखनऊ और अहमदाबाद-मुंबई रूट पर प्राइवेट ट्रेनों का परिचालन कर रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *