आइए जानते हैं बिहार के एक ऐसे आईएएस की कहानी जिन्होंने महज़ 22 साल की उम्र में आईएएस ऑफिसर बिहार का नाम पूरे देश में रोशन किया था। यह कहानी बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाला मुकुंद कुमार के जिन्होंने बिना किसी कोचिंग क्लास एवं पहले ही प्रयास यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली थी।

 

इतिहास बन गया जब किसी 22 वर्षीय लड़के बिना किसी कोचिंग क्लास के यूपीएससी की परीक्षा पहले ही प्रयास में पास कर ली। IAS मुकुंद कुमार को 2019 के UPSC परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक 54 हासिल हुआ था।

 

मुकुंद कुमार की बात की जाय तो प्रारंभिक शिक्षा इन्होंने बिहार के सरस्वती विद्यालय से पूरी की, यहां वे पांचवी क्लास तक पढ़े, इसके बाद इन्होंने सैनिक स्कूल गोलपाड़ा आसाम से 12वीं तक की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी लिटरेचर में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की।

 

यूपीएससी की परीक्षा के लिए पर्याप्त उम्र ना होने की वजह से इन्होंने 1 साल खुद से तैयारी की, बिना किसी कोचिंग क्लास के यह सफलता इस वजह से मिल पाए क्योंकि मुकुंद कुमार ने अपना लक्ष्य अपनी स्कूली शिक्षा के दौरान ही तय कर लिया था एवं निरंतर लक्ष्य पर कार्यरत रहे। सिविल सेवाओं की तैयारी के दौरान हर छात्र की अपनी स्ट्रेटजी होती है। लेकिन मुकुल कुमार की बात की जाए तो उन्होंने साबित कर दिया कि अगर आप की तैयारी ठीक हो कामयाबी आप को रोक नहीं सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.