यूपीएससी प्रतियोगिता में भाग लेने और लक्ष्य को पाने के लिए प्रतिभागी सोशल मीडिया से बिल्कुल दूर हो जाते हैं। परंतु यहां पर बिल्कुल विपरीत हुआ यूपीएससी परीक्षा देने के लिए इस सोशल मीडिया के जरिए कामयाबी हासिल की, जी हां हम बात कर रहे हैं यूट्यूब रोमा कहती हैं इंटरनेट के जरिए पढ़ाई करना बहुत ही सुविधाजनक होता है। तैयारी के वक्त हमें जहां कहीं भी दिक्कत आती है नेट के जरिए इसे और अच्छे से समझ सकते हैं।

 

 

रोमा श्रीवास्तव आईएएस कोचिंग के पैसे बचाए –

रोमा श्रीवास्तव ने नेट रिचार्ज करा आईएस ऑफिसर बनने के लिए कोचिंग पर पैसे खर्च नहीं करे बल्कि सोशल मीडिया के जरिए परीक्षा की तैयारी की और जो टॉपिक समझ नहीं आता उसे फौरन यूट्यूब पर सर्च करके देख लिया करती थी

 

 

रोमा आईएस श्रीवास्तव ने बताया –

यह सफलता मुझे चौथी कोशिश के बाद 2019 में मिली में पहले भी दो बार यूपीएससी परीक्षा में चयनित हो चुकी हूँ जहां उनकी रैंक के हिसाब से सेवाएं भी दी गई थी। जब साल 2016 में पहली बार उनका चयन हुआ उस समय उन्हें इंडियन पोस्ट एंड टेलीकॉम की सेवा दी गई थी, लेकिन वह इस सर्विस को ज्वाइन नहीं करना चाहती थी क्योंकि ये उनकी पसंदीदा पोस्ट नही थी इसलिए रोमा ने एग्जाम फिर दिया। और वर्ष 2018 में उनका सिलेक्शन हुआ। इस बार उनकी रैंक के हिसाब से आईपीएस की सर्विसेज मिली। रोमा इससे भी खुश ना हुई और उन्होंने एक बार फिर प्रयत्न किया,इस बार फिर कड़ी मेहनत की और वर्स 2019 में रोमा ने 70वी रैंक से यूपीएससी के एग्जाम में टॉप कर लिया अब इनका सिलेक्शन उनकी पसंदीदा सेवा के लिए हो गया था। इस बार रोमा ने टोटल 4 बार परीक्षा दी जिनमें से तीन बार उनका सिलेक्शन हुआ इस बार बार परीक्षा देने के दौरान रोमा ने कोचिंग नहीं ली बल्की खुद से ही तैयारी की और सफलता हासिल हुई।

 

 

इंटरव्यू में बताया सफलता का राज –

रोमा ने अपने इंटरव्यू के दौरान बताया के यूपीएससी के एग्जाम में 3 स्टेप्स होते हैं, जिसमें सबसे पहले प्री एग्जाम देना पड़ता है। इस परीक्षा के लिए रोमा सजेस्ट करती हैं, के आप केवल कट ऑफ मार्क्स प्राप्त करें इस पर ध्यान दीजिए। हालांकि इस परीक्षा में मेरिट नहीं बनने वाली है और हर साल लाखों प्रतिभागी एग्जाम देते हैं। यह इतना आसान भी नहीं होता है उन्होंने कहा एग्जाम की तैयारी के लिए आपको स्टैंडर्ड बुक पढ़नी चाहिए। इसके साथ टेस्ट पेपर भी हल करने चाहिए, एग्जाम की तैयारी पूरी हो जाए तब बहुत से टेस्ट पेपर सॉल्व कीजिए। ऐसा करने से आपको प्रैक्टिस हो जाएगी और आपको अपनी कमियों कि पता चल जाएंगा।

 

ए यूट्यूब से ली सहायता –

बताया इंटरनेट की सहायता से किताबों की लिस्ट निकालिए और पिछले साल के पेपर देखकर समझीए ,  किस तरीके से तैयारी करनी चाहिए। बता दें रोमा साइंस की छात्रा थी। इसके कारण आर्ट्स में उन्हें परेशानी रही , जिसे समझने के लिए रोमा ने यूट्यूब की सहायता ली। फिर यूट्यूब के जरिए  तैयारी के दौरान जो  टॉपिक समझ नहीं आया, उसे पढ़ा और समझा और सफलता हासिल हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *