सोमवार, नवम्बर 29

भारत सरकार का निर्देश जा’री, अगर राँची में रहते है तो पढ़े और बनाये अपने शहर को जैसा आप चाहते हैं।

शहर में मौजूद सुविधाओं को लेकर अब आपको खुद तय करना है कि कौन सी सुविधाएं बढ़नी चाहिए और क्या-क्या नया होना चाहिए। इसके लिए आपको अपने मोबाइल पर एक एप डाउनलोड करके अपनी प्राथमिकताएं की गिनानी होंगी। ईज ऑफ लिविंग को लेकर चल रहे राष्ट्रव्यापी सर्वे वे रांची भी शामिल है और आम लोगों के फीडबैक के आधार पर नगर विकास विभाग आने वाले दिनों में शहर में सुविधाएं बहाल करने की रणनीति तैयार करेगा। भारत सरकार के आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय के निर्देश पर 1 फरवरी से लेकर 29 फरवरी के बीच देश के 114 शहरों में ईज ऑफ लिविंग 2019 (Ease of Living 2019) सर्वे जा’री है। इन शहरों में झारखंड की राजधानी रांची का भी नाम है।

राजधानी रांची में शहरी जीवन शैली कैसी है और प्रतिदिन आपके जीवन में आने वाली जरूरतों को पूरा करने में शहर कितना सक्षम है , अर्थात क्या राजधानी रांची में हर बुनियादी जरूरत की वस्तुएं मौजूद हैं या फिर इनके लिए आपको कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इन सवालों के जवाब के माध्यम से आप अपने शहर का रेटिंग तय कर सकते हैं। ऐप को डाउनलोड करने के लिए आपको अपने मोबाइल के गूगल सर्च में जाकर (Eol2019) टाइप करना होगा। इसके बाद सिटीजन फीडबैक टाइप कर आप अपने राज्य झारखंड, अपने शहर रांची और अपनी भाषा का चयन कर भारत सरकार द्वारा दिए गए सवालों का जवाब देना है। अधिक से अधिक लोग अगर फीडबैक देते हैं तो सरकार उनके विचारों के मुताबिक भविष्य में शहर के आधारभूत संरचना के विकास में आगे बढ़ सकती है। यही नहीं अधिक फीडबैक मिलने वाले शहर राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित भी होंगे। दरअसल सरकार चाहती है कि शहरों में संस्थागत, आर्थिक और सामाजिक विकास वहां के लोगों की जरूरतों के अनुकूल हो इसके लिए यह जरूरी हो जाता है कि उस शहर की वर्तमान स्थिति का आकलन किया जाए और जिन क्षेत्रों में ज्यादा फोकस करने की जरूरत है उन्हीं क्षेत्रों में लक्ष्य आधारित विकास किया जाए।

इसलिए इस सर्वे में दैनिक जीवन से जुड़ी पहलुओं पर आधारित कुल 24 सवालों को आपके सामने रखा गया है और सभी सवालों के वैकल्पिक जवाब भी पोर्टल पर मौजूद है। बस आपको हर सवाल का एक जवाब जैसा आप महसूस करते हैं, चयनित करना है और फीडबैक फॉर्म को सबमिट करने के लिए ओके बटन दबाना है।यह सर्वे राष्ट्रीय स्तर पर यह बताने की भी कोशिश करेगा कि आपके शहर में शिक्षा ,स्वास्थ्य, साफ-सफाई, बिजली ,ट्रांसपोर्ट, बैंक और वित्तीय प्रबंधन तथा आ’पात’कालीन सेवाओं की स्थिति क्या है।

इसके साथ ही लोगों की आमदनी व रोजगार की उपलब्धता और जरूरत की भी जानकारी इकट्ठा की जाएगी। रांची नगर निगम और रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन लिमिटेड ने विभिन्न विभागों के साथ समन्वय शुरू कर डाटा इकट्ठा करने का काम भी शुरू कर दिया है। इसके साथ ही विभिन्न माध्यमों से प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है ताकि अधिक से अधिक जनता का भी फीडबैक मिल सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *