सोमवार, नवम्बर 29

भारत के सबसे बड़े बैंक से मिली बड़ी खुशखबरी, अब सभी ग्राहकों के लिए ख़त्म हुआ ये बड़ा झंझट

देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने बुधवार को अपने ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी का ऐलान किया। बैंक ने सभी तरह के सेविंग बैंक अकाउंट पर एवरेज मंथली बैलेंस (AMB)की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है। बैंक की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि बैंक के ग्राहकों को परेशानी मुक्त बैंकिंग सेवा उपलब्ध कराने एवं देश में वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाया गया है।

SBI के इस फैसले से 44.51 करोड़ ग्राहकों को फायदा होगा। इस समय मेट्रो, सेमी अर्बन और रुरल इलाकों में क्रमशः 3,000, 2,000 और 1,000 रुपये का मिनिमम बैलेंस मेंटेन करना होता है। भारतीय स्टेट बैंक मंथली बैलेंस मेंटने नहीं करने पर ग्राहकों से पेनाल्टी वसूलता था। इस घोषणा का ऐलान करते हुए SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा, ”इस घोषणा से हमारे मूल्यवान ग्राहों की मुस्कान और बढ़ जाएगी।

AMB को माफ करना बैंक का एक और महत्वपूर्ण कदम है जो ग्राहकों को अधिक सुविधाजनक एवं बेहतर बैंकिंग अनुभव के लिए उठाया गया है। हमारा मानना है कि इस कदम से हमारे ग्राहक एसबीआई और सशक्त तरीके से बैंक से जुड़ेंगे और एसबीआइ में उनका विश्वास और मजबूत होगा।बैंक ने कहा है कि ‘कस्टमर फर्स्ट’ एप्रोच को ध्यान में रखते हुए एसएमएस चार्ज को भी माफ कर दिया है। इस कदम से बैंक के सभी ग्राहकों को उल्लेखनीय फायदा होगा।

State Bank एसेट, डिपोजिट, ब्रांचेज, कस्टमर्स और कर्मचारियों के मामले में देश का सबसे बड़ा बैंक है। 31 दिसंबर, 2019 के आंकड़े के मुताबिक बैंक का डिपोजिट बेस 31 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का है। बैंक ने इससे पहले आज दिन में MCLR बेस्ड ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया था। इसके साथ ही SBI ने Fixed Deposit पर ब्याज दर में कमी की भी घोषणा की थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *