बुधवार, दिसम्बर 8

भागलपुर TMBU के छात्रों के लिए जरुरी सुचना, पार्ट 1,2,3 के छात्रों के लिए नयी व्यवस्था लागू

टीएमबीयू के प्रभारी कुलपति डाॅ. अजय कुमार सिंह के निर्देश के बाद विवि में परीक्षा के कामकाज काे डिजिटल माेड में ढालने की तैयारी चल रही है। सेशन 19-22 के पार्ट वन के जिन 40 हजार छात्राें का एडमिशन अाॅनलाइन हुआ है विवि उन छात्राें का रजिस्ट्रेशन भी आनलाइन ही करेगा। पहले फेज में रजिस्ट्रेशन का काम आनलाइन हाेगा।
इसकाे लेकर परीक्षा काे लेकर बनी कॉओर्डिनेशन कमेटी के प्रस्ताव पर कुलपति ने अपनी मुहर लगा दी है। जिन छात्राें का पिछले साल आनलाइन एडमिशन यूएमआईएस के जरिए हुआ है उसी डाटा काे बेस मानकर विवि उन छात्राें का आनलाइन रजिस्ट्रेशन करेगा। रजिस्ट्रेशन हाे जाने पर छात्राें काे उनके डेट आफ बर्थ या फिर माेबाइल नंबर के आधार पर उन्हें एक पासवर्ड दे देगा। जिस के जरिए वाे अपने रजिस्ट्रेशन डाटा का प्रिंट निकाल सकते हैं।


अगर इसमें उन्हें नाम या अन्य किसी प्रकार की गलती लगेगी ताे वे संबंधित काॅलेज के प्रिसिंपल काे आवेदन देकर इसमें सुधार करवा सकते हैं। काॅलेज के प्रिंसिंपल काे भी रजिस्ट्रेशन से संबंधित पासवर्ड उपलब्ध कराया जाएगा जिसके आधार पर विवि के पाेर्टल पर जाकर वाे अपने काॅलेजाें के छात्राें के रजिस्ट्रेशन में करेक्शन कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन के डाटा का ही उपयाेग विवि उन छात्राें के परीक्षा लेने में करेगा। उसी आधार पर टेबुलेशन का काम हाेगा। अंक पत्र की तीन काॅपी बनाई जाएगी। जिसमें से दाे काॅपी कंप्यूटर में टेबलेशन में उपयाेग में लाया जाएगा जबकि एक काॅपी स्ट्रांग रूम में रहेगी। आनलाइन रजिस्ट्रेशन हाेने से छात्राें काे रिजल्ट या रजिस्ट्रेशन से संबंधित पेंडिंग की समस्या काे लेकर बार-बार विवि का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा।


एग्जाम काे लेकर बनी कॉओर्डिनेशन कमेटी के कन्वेनर डाॅ. अशाेक ठाकुर ने बताया कि वीसी ने आनलाइन रजिस्ट्रेशन के प्रस्ताव काे अनुमाेदित कर दिया है। जिसके बाद इसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है। इस सेशन के पार्ट वन का सारा काम आनलाइन हाेगा। लेकिन पार्ट टू व पार्ट थ्री का विवि के यूएमआईएस के पास डाटा नहीं रहने के कारण अभी इस दाेनाें पार्ट का काम आफलाइन ही हाेगा। विवि यूजी व पीजी की परीक्षा लेने काे तैयार है। प्रश्न पत्र तक तैयार है। केंद्र व राज्य सरकार के आदेश का इंतजार है।
पार्ट वन के छात्राें का फार्म भी विवि के पाेर्टल पर रहेगा।


पार्ट वन के छात्राें का परीक्षा फार्म भी विवि के पाेर्टल पर रहेगा। जिसे छात्र डाउनलाेड कर भरेंगे तथा अपने काॅलेज में इसे जमा कर देंगे। तथा काॅलेज के प्राचार्य विवि के पाेर्टल पर रजिस्ट्रर्ड छात्राें के डाटा से उन छात्राें के परीक्षा फार्म काे स्वीकृत कर देंगे। फिर छात्र पंजीयन की तरह ही अपना प्रवेश पत्र आनलाइन डाउनलाेड कर लेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *