बुधवार, दिसम्बर 8

भागलपुर रेलवे स्टेशन पर पार्किंग के नाम पर चल रहा ये धंधा, पैसे नहीं देने पर हो जाता है गायब

भागलपुर रेलवे जंक्शन पर महीनों से पार्किंग के नाम पर अवैध वसूली का खेल चल रहा है। इस खेल में पार्किंग कर्मी से स्टेशन के अधिकारियों की भूमिका भी है। बाइक की पार्किंग करने वाले यात्रियों से हेलमेट की सुरक्षा के लिए 10 से 15 रुपये तक अलग से लिए जा रहे हैं। जबकि रेलवे की ओर से कोई ऐसा आदेश नहीं हैं। इस बात की जानकारी होने के बाद भी जंक्शन पर कॉमर्शियल विभाग में बैठे अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

पार्किंग संचालकों की दबंगई इस कदर हावी है कि जिन यात्रियों ने बाइक के साथ हेलमेट का अलग से पैसा नहीं दिया तो उनका हेलमेट भी गायब हो जाता है। जंक्शन पर तैनात सीआइटी रामकुमार ने बताया कि टेंंडर में हेलमेट का कोई जिक्र नहीं है। ऐसे में सवाल उठता है कि बाइक लगाकर ट्रेन पकडऩे वाले हेलमेट कहां रखेंगे? अगर बिना हेलमेट के बाइक लेकर यात्री पहुंचता है तो बीच में पकड़े का जाने का डर भी रहता है।

20 दिसंबर को जब मालदा मंडल के एडीआरएम स्टेशन का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इस दौरान पार्किंग के पास एक यात्री ने हेलमेट के नाम पर पैसा लेने की शिकायत की थी। इस पर एडीआरएम गुस्सा गए और सीआइटी रामकुमार को रोक लगाने का निर्देश दिया। इनके निर्देश के बाद भी यह वसूली बंद नहीं हुई है। स्टेशन की बाइक पार्किंग में रोजाना 200 से 250 के बीच बाइक लगती है। इसमें से लगभग सभी बाइक में हेलमेट भी रहता है। सभी से हेलमेट के नाम पर वसूली होती है।

DJH ÚUðÜßð SÅUðàæÙ ÂçÚUâÚU ×ð´ ×æðÅUÚUâæ§üç·¤Ü SÅUñÇU ×ð´ Ü»æ ãUé¥æ ×æðÅUÚUâæ§üç·¤Ü

पिछले दिनों को जब कुछ यात्रियों से बात की गई तो उन्होंने पैसे लेने की बात कही। पर, तस्वीर खिंचवाने से मना कर दिया। इनका कहना था कि हमलोग रोज बाइक लगाते हैं फोटो छपने के बाद दिक्कत होगी। पार्किंग में बाइक के साथ हेलमेट रखने पर किसी तरह का शुल्क नहीं लिया जाना चाहिए। सिर्फ बाइक का पैसा लगेगा। हेलमेट के लिए अगर अलग पैसा लिया जाता है तो गलत है। इस पर कार्रवाई की जाएगी। -निखिल चक्रवर्ती, सीपीआरओ, पूर्व रेलवे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *