शुक्रवार, दिसम्बर 3

भागलपुर में SSP आशीष भारती का शख्त निर्देश जारी, ऐसे लोग पर शख्त क़ानूनी कार्यवाही का आदेश

कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की अफवाहें फैलाई जा रही हैं। पुलिस सरकार की गाइडलाइन का पालन नहीं करवा पा रही है। दरअसल, दूसरे प्रदेशों व विदेश से आने वालों को नगर निगम चिन्हित कर रहा है। ऐसे लोगों को कोरोना का संदिग्ध माना गया है। इन लोगों के घर पर पोस्टर चिपका कर घर में स्वजनों से अलग रहने की सलाह दी जाती है। नगर निगम द्वारा चिपकाए गए पोस्टर का फोटो खींच कर कुछ लोग सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्हें कोरोना पॉजिटिव बता कर बदनाम भी कर रहे हैं।

 

इस मामले में भीखनपुर के गुमटी नंबर दो निवासी एक व्यक्ति ने सोमवार को इशाकचक थाने में शिकायत की। कहा कि वे हरियाणा के पानीपत में अपना व्यापार करते हैं। 21 मार्च को पैतृक घर भीखनपुर पहुंचे। 23 मार्च को उन्होंने परिवार समेत जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में जांच कराई। उन्हें पूरी तरह स्वस्थ बताया गया। साथ ही क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी गई। कुछ लोगों ने उन्हें और परिवार को कोरोना पॉजिटिव बताते हुए सोशल मीडिया पर बदनाम करना शुरू कर दिया। इससे वे मानसिक तनाव में हैं।

 

लॉकडाउन को लेकर उड़ा दी थी अफवाह

तीन दिन पूर्व लॉकडाउन को लेकर भी नवगछिया खरीक बाजार निवासी एक युवक ने जिले के तीन इलाकों में गोली मारने का आदेश देने की अफवाह उड़ा दी थी। सोशल मीडिया पर यह पोस्ट बड़ी तेजी से वायरल हुआ। अब भी किसी-कसी ग्रुप पर यह पोस्ट वायरल हो रहा है। अफवाह फैलाने वाले लोगों के खिलाफ न तो केस दर्ज किया गया न कोई कार्रवाई की गई। कड़ी निगरानी : अफवाह फैलाने वालों पर पुलिस कड़ी निगरानी रख रही है। ऐसा करने वालों के विरुद्ध पुलिस सख्त कानूनी कार्रवाई करेगी। सोशल साइट पर भी नजर रखी जा रही है – आशीष भारती, एसएसपी भागलपुर

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *